रोहिंग्या मुसलमानों के बारे में ट्वीट कर ट्रोल हुए इरफान पठान

Irfan Pathan Speaks On Myanmar Genocide Gets Trolled On Twitter

नई दिल्ली। क्रिकेटर इरफान पठान इन दिनों ट्वीटर पर जमकर ट्रोल किए जा रहें है। हालांकि इरफान ने यहां अपने नेक विचार जाहिर किए थे फिर भी लोगों के निशाने पर आ गए। दरअसल म्यांमार में हो रहे मुसलमानों के नरसंहार से चिंतित इरफान ने लिखा, ”ऐसा लगता है कि दुनिया के इंसानों ने फैसला कर लिया है कि उन्हे शांति नही चाहिए। इस समय इंसान ही इंसान का दुश्मन बन बैठा है।”

आपको बता दें कि म्यांमार में सेना रोहिंग्या मुसलमानों को अप्रवासी बता के मार रही है। म्यांमार सरकार नें रोहिंग्या समुदाय के लोगों कि नागरिकता खत्म कर दी है। सरकारी रिकॉर्ड के हिसाब से रोहिंग्या समुदाय म्यांमार के नागरिक नहीं हैं। इन्हे देश छोड़ने के लिए कह दिया गया है। म्यांमार में बहुत बड़े स्तर पर मानवाधिकारों का उलंघन हुआ है। जिसकी वजह से दुनिया के कई देशों में रोहिंग्या शरणार्थी बनकर रह रहे हैं।

हालांकि मानवता के पक्ष में बोलने के बावजूद इरफान पठान को ट्रोल किया गया। आइये जानें कि इस साधारण से ट्वीट के बाद लोगों ने इरफान पठान से सोशल मीडिया पर क्या कहा? सर अजेक्या रहाणे नाम के एक ट्विटर पेज ने लिखा, ‘इंसान जानवरों से ज्यादा बुरा है। बकर ईद या जानवरों को मारना भी अमानवीय कृत्य है…आपको क्या लगता है सर?


इसके अलावा रवि एन नाम के एक पेज ने लिखा, ‘कई और मुस्लिम आबादी वाले मुल्कों की तुलना में भारत बहुत अच्छा देश है, ज्यादातर मुस्लमान भारत में खुद को खुश और सुरक्षित महसूस करते हैं।’

विपिन कुमार नाम के ट्विटर हैंडल से कमेंट आया कि ‘काश आपने इंसानियत की बात देश के उन कश्मीरी पंडितों के लिए कही होती जिन्हें अपने ही देश में अपने घर से बेदखल कर दिया या फिर मार दिया गया।’ हाल के दिनों में सोशल मीडिया बहूत ही चिंताजनक रुप लेता जा रहा है जहां पर बोलने वालों के खिलाफ ट्रोल करने वालों की एक फौज आ जाती है। जो कि गालिंयों और अपशब्दों के जरिए अनकी आवाज बंद कराना चाहती है।

नई दिल्ली। क्रिकेटर इरफान पठान इन दिनों ट्वीटर पर जमकर ट्रोल किए जा रहें है। हालांकि इरफान ने यहां अपने नेक विचार जाहिर किए थे फिर भी लोगों के निशाने पर आ गए। दरअसल म्यांमार में हो रहे मुसलमानों के नरसंहार से चिंतित इरफान ने लिखा, ''ऐसा लगता है कि दुनिया के इंसानों ने फैसला कर लिया है कि उन्हे शांति नही चाहिए। इस समय इंसान ही इंसान का दुश्मन बन बैठा है।" आपको बता दें कि म्यांमार में सेना…