ISI द्वारा प्रायोजित टेरर मॉडयूल का भंडाफोड़, पुलिस ने दो खालिस्तानी आतंकियों को गिरफ्तार किया

arrested-s_650_120715111406 (1)

चंडीगढ़: पंजाब पुलिस ने पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आई.एस.आई. (ISI) द्वारा प्रायोजित किए जा रहे एक टेरर मॉडयूल का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने दो खालिस्तानी आतंकियों को गिरफ्तार किया तो इस मॉडयूल का खुलासा हुआ. पुलिस ने दोनों आतंकियों के पास से विदेशी हथियार भी बरामद किए है. पुलिस और सुरक्षा एजेंसियां दोनों आतंकियों से लगातार पूछताछ कर रही हैं.

Isi Sponsored Terror Module Busted Police Arrest Two Khalistani Terrorists :

पुलिस ने इन दोनों आतंकियों की निशानदेही पर जर्मन मेड MP5 सब मशीनगन, 9 एमएम की पिस्टल और दो मोबाइल फोन्स के अलावा कई अन्य संवेदनशील सामान बरामद किया है. पंजाब पुलिस का कहना है कि ये आतंकी बड़े टेरर अटैक और टारगेट किलिंग की साजिश रच रहे थे. दोनों खालिस्तान समर्थक आतंकी पंजाब में खौफनाक साजिश को अंजाम तक पहुंचाने की प्लानिंग कर रहे थे.

इन दोनों को सरहद पार से मदद मिल रही थी. पाकिस्तान में बैठे इनके आका खुफिया एजेंसी आई.एस.आई. की मदद और अपने हैंडलरों के माध्यम से इन तक हथियार पहुंचा रहे थे. इनके मोबाइल में कई तरह की खालिस्तान समर्थक सोशल मीडिया पोस्ट भी मिली हैं.

पंजाब पुलिस के मुताबिक गुरमीत सिंह और बिक्रम सिंह नामक इन दोनों आतंकियों को अमृतसर से गिरफ्तार किया गया है. पूछताछ में पता चला कि इनमें से एक आतंकी गुरमीत सिंह 3 साल पहले पाकिस्तान जाकर अपने हैंडलरों से मिलकर आया था. तभी से वे इस खालिस्तान समर्थक नये मॉड्यूल को खड़ा करने की कोशिश में थे. फिलहाल, पुलिस इस मामले में और छानबीन कर रही है.

चंडीगढ़: पंजाब पुलिस ने पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आई.एस.आई. (ISI) द्वारा प्रायोजित किए जा रहे एक टेरर मॉडयूल का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने दो खालिस्तानी आतंकियों को गिरफ्तार किया तो इस मॉडयूल का खुलासा हुआ. पुलिस ने दोनों आतंकियों के पास से विदेशी हथियार भी बरामद किए है. पुलिस और सुरक्षा एजेंसियां दोनों आतंकियों से लगातार पूछताछ कर रही हैं. पुलिस ने इन दोनों आतंकियों की निशानदेही पर जर्मन मेड MP5 सब मशीनगन, 9 एमएम की पिस्टल और दो मोबाइल फोन्स के अलावा कई अन्य संवेदनशील सामान बरामद किया है. पंजाब पुलिस का कहना है कि ये आतंकी बड़े टेरर अटैक और टारगेट किलिंग की साजिश रच रहे थे. दोनों खालिस्तान समर्थक आतंकी पंजाब में खौफनाक साजिश को अंजाम तक पहुंचाने की प्लानिंग कर रहे थे. इन दोनों को सरहद पार से मदद मिल रही थी. पाकिस्तान में बैठे इनके आका खुफिया एजेंसी आई.एस.आई. की मदद और अपने हैंडलरों के माध्यम से इन तक हथियार पहुंचा रहे थे. इनके मोबाइल में कई तरह की खालिस्तान समर्थक सोशल मीडिया पोस्ट भी मिली हैं. पंजाब पुलिस के मुताबिक गुरमीत सिंह और बिक्रम सिंह नामक इन दोनों आतंकियों को अमृतसर से गिरफ्तार किया गया है. पूछताछ में पता चला कि इनमें से एक आतंकी गुरमीत सिंह 3 साल पहले पाकिस्तान जाकर अपने हैंडलरों से मिलकर आया था. तभी से वे इस खालिस्तान समर्थक नये मॉड्यूल को खड़ा करने की कोशिश में थे. फिलहाल, पुलिस इस मामले में और छानबीन कर रही है.