1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Islamic State छ: माह के भीतर अमेरिका पर कर सकता है बड़ा हमला, पेंटागन ने जारी की चेतावनी

Islamic State छ: माह के भीतर अमेरिका पर कर सकता है बड़ा हमला, पेंटागन ने जारी की चेतावनी

पेंटागन (Pentagon) के एक सीनियर अधिकारी ने अमेरिकी खुफिया एजेंसियों (US Intelligence Agencies) को बड़ी चेतावनी जारी की है। कहा है कि इस्लामिक स्टेट ऑफ खोरासन (Islamic State of Khorasan) अगले छह महीने में अमेरिका (America) पर हमला कर सकता है। अमेरिका के रक्षा अवर सचिव कॉलिन काहल ( US Under Secretary of Defense Colin Kahl) ने कहा कि अमेरिका भले ही अगस्त में दो दशक के युद्ध को खत्म कर चुका हो, लेकिन अमेरिका (America) के लिए गंभीर खतरा बना हुआ है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। पेंटागन (Pentagon) के एक सीनियर अधिकारी ने अमेरिकी खुफिया एजेंसियों (US Intelligence Agencies) को बड़ी चेतावनी जारी की है। कहा है कि इस्लामिक स्टेट ऑफ खोरासन (Islamic State of Khorasan) अगले छ: माह में अमेरिका (America) पर हमला कर सकता है। अमेरिका के रक्षा अवर सचिव कॉलिन काहल ( US Under Secretary of Defense Colin Kahl) ने कहा कि अमेरिका भले ही अगस्त में दो दशक के युद्ध को खत्म कर चुका हो, लेकिन अमेरिका (America) के लिए गंभीर खतरा बना हुआ है। अल कायदा (al Qaeda) को लेकर कहल ने कहा है कि अमेरिका (America) पर हमला करने में अल कायदा (al Qaeda)  को एक से दो साल लग सकते हैं।

पढ़ें :- Afghanistan Breaking: तालिबान को लगा बड़ा झटका, आतंकी संगठन IS ने मेन कमांडर को मार गिराया

बता दें कि अफगानिस्तान (Afghanistan)  में इस्लामिक स्टेट(Islamic State)  ने तालिबान (Taliban)  की सत्ता की चुनौती दी है। काबुल पर तालिबान (Taliban) के कब्जे के बाद से इस्लामिक स्टेट ऑफ खोरासन (Islamic State of Khorasan)  अफगानिस्तान (Afghanistan) में कई आतंकी हमले कर चुकी हैं। इन हमलों में सैकड़ों लोगों की मौत हो चुकी है और कई लोग घायल हुए हैं।

कहल ने कहा कि यह अभी साफ नहीं है कि अमेरिका के अफगानिस्तान छोड़ने के बाद इस्लामिक स्टेट (Islamic State) के पास तालिबान से प्रभावी ढंग से लड़ने की क्षमता है या नहीं, लेकिन ये सच है कि इस्लामिक स्टेट (Islamic State) तालिबान को नुकसान पहुंचा रहे हैं। हमारा आंकलन है कि इस्लामिक स्टेट ऑफ खोरासन (Islamic State of Khorasan) और तालिबान एक-दूसरे के दुश्मन हैं। इस्लामिक स्टेट (Islamic State) के पास कुछ हजार लड़को का कैडर है जिसे वह बढ़ाने में जुटे हुए हैं।

तालिबान ने लगातार कहा है कि अफगानिस्तान को आतंक का अड्डा नहीं बनने देंगे लेकिन दुनिया के देशों को तालिबान की यह बात हजम नहीं हो पा रही है। तालिबान सरकार (Taliban Government) के कार्यवाहक विदेश मंत्री मेर खान मुत्ताकी (Acting Foreign Minister Mer Khan Muttaki) ने कहा है कि इस्लामिक स्टेट (Islamic State)   के आतंकियों से खतरे को दूर किया जाएगा।

पढ़ें :- America's Airstrike: काबुल एयरपोर्ट पर धमाका करने वाले आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के बुरे दिन शुरू
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...