1. हिन्दी समाचार
  2. भारत का 10 साल में चांद पर दूसरा कदम, ISRO ने जारी की चंद्रयान-2 की तस्वीरें

भारत का 10 साल में चांद पर दूसरा कदम, ISRO ने जारी की चंद्रयान-2 की तस्वीरें

By रवि तिवारी 
Updated Date

Isro Chandrayaan 2 First Images July Launching Payloads Indigenous

नई दिल्ली। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो(ISRO) ने चंद्रयान-2 (chandrayaan-2)मिशन की पहली तस्वीरें जारी की हैं। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) अपने सबसे महत्वाकांक्षी मिशन के तहत चंद्रयान-2(chandrayaan-2) का 9 जुलाई से 16 जुलाई के बीच छोड़ा जाएगा। इसरो के मौजूदा शेड्यूल के मुताबिक, स्पेसक्राफ्ट 19 जून को बेंगलुरु से रवाना होगा और 20 या 21 जून तक श्रीहरिकोटा के लॉन्चपैड पर पहुंचेगा। 10 साल में दूसरी बार चांद पर जाने वाले मिशन से जुड़ीं पहली तस्वीरें सामने आने से इसका रोमांच और भी बढ़ गया है।

पढ़ें :- 11 मई 2021 का राशिफल: इस राशि के जातक विवादों से बचें, इन पर पड़ सकता है अमावस्या का प्रभाव

भारत का 10 साल में चांद पर दूसरा कदम, ISRO ने जारी की चंद्रयान-2 की तस्वीरें

भारत में बनाया गया है लॉन्च वीइकल

चंद्रयान-2 मिशन के तीन मॉड्यूल्स में से एक ऑर्बिटर, लैंडर और एक रोवर है जिन्हें लॉन्च वीइकल जीएसएलवी एमके lll स्पेस में लेकर जाएगा। खास बात यह है कि इस लॉन्च वीइकल को भारत में ही बनाया गया है। चंद्रयान-2 के लैंडर को विक्रम और रोवर को प्रज्ञान नाम दिया गया है। रोवर प्रज्ञान को लैंडर विक्रम के अंगर रखा जाएगा और चांद की सतह पर विक्रम के लैंड होने पर इसे डिप्लॉय किया जाएगा।

भारत का 10 साल में चांद पर दूसरा कदम, ISRO ने जारी की चंद्रयान-2 की तस्वीरें

पढ़ें :- PUBG Mobile खेलने वालो में ख़ुशी की लहर, जल्द आ रहा है Battlegrounds Mobile India

चांद पर करेगा एक्सपेरिमेंट, नासा की मदद भी

इसरो के मुताबिक ऑर्बिटर मिशन के दौरान चांद का चक्कर लगाएगा और फिर चांद के साउथ पोल के पास लैंड होगा। चांद की सतह पर पहुंचने पर 6 पहियों वाला प्रज्ञान सतह छोड़ दिया जाएगा जहां यह एक्सपेरिमेंट करेगा। ये सब धरती पर बैठे इसरो के साइंटिस्ट कंट्रोल करेंगे। भारत के लूनर मिशन को आगे ले जाने के अलावा चंद्रयान दो अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों की मदद भी करेगा। यह अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा का एक एक्सपेरिमेंट भी लेकर जाएगा।

भारत का 10 साल में चांद पर दूसरा कदम, ISRO ने जारी की चंद्रयान-2 की तस्वीरें

10 साल में दूसरा मिशन

चंद्रयान-2 को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा में सतीश धवन स्पेस सेंटर से लॉन्च किया जाएगा। भारत के लिए यह गौरव का बात है कि 10 साल में दूसरी बार हम चांद पर मिशन भेज रहे हैं। चंद्रयान-1 2009 में भेजा गया था। हालांकि, उसमें रोवर शामिल नहीं था। चंद्रयान-1 में केवल एक ऑर्बिटर और इंपैक्टर था जो चांद के साउथ पोल पर पहुंचा था।

पढ़ें :- पिछले वर्ष की अपेक्षा, इस वर्ष का लॉक डाउन नहीं डाल पाया अर्थिक गतिविधियां पर अधिक प्रभाव: फिच रेटिंग्स

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X