4 टन का सैटलाइट लांच कर इतिहास रचने की तैयारी में ISRO

Isro Set To Launch Self Made Rocket Which Carrying 4 Ton Satellite

नई दिल्ली। अपनी कामयाबियों से दुनिया भर में सुर्खियां बटोर रही इंडियन स्पेस रिसर्च आॅर्गेनाइजेशन (ISRO) जल्द ही एक नया कीर्तिमान स्थापित करने जा रहा है। इसरो मई में 4 टन वजन का सैटलाइट अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित करने की तैयारी कर रहा है। कई लिहाज से इसरो का का यह प्रयास खास है।




जानकारों की माने तो इसरो अब तक स्वदेशी रॉकेट से अधिकतम 2ण्2 टन वजन तक के सैटलाइट ही अंतरिक्ष में भेजने में सक्षम रहा है। इससे अधिक वजन के सैटलाइट के अंतरिक्ष में स्थापित करने के लिए उसे विदेशी रॉकेट का प्रयोग करना पड़ता था, लेकिन यह पहला मौका होगा जब इसरो स्वयं तैयार किए गए रॉकेट के जरिए 4 टन वजन का सैटलाइट अंतरिक्ष में भेजेगा।




इसरो ने इस काम के लिए तैयार किए अपने रॉकेट का नाम जीएसएलवी—एमके 3 डी—1 रखा है। जिसे अगले महीने श्रीहरिकोटा स्पेस सेंटर से अंतरिक्ष के लिए रवाना किया जाएगा।

नई दिल्ली। अपनी कामयाबियों से दुनिया भर में सुर्खियां बटोर रही इंडियन स्पेस रिसर्च आॅर्गेनाइजेशन (ISRO) जल्द ही एक नया कीर्तिमान स्थापित करने जा रहा है। इसरो मई में 4 टन वजन का सैटलाइट अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित करने की तैयारी कर रहा है। कई लिहाज से इसरो का का यह प्रयास खास है। जानकारों की माने तो इसरो अब तक स्वदेशी रॉकेट से अधिकतम 2ण्2 टन वजन तक के सैटलाइट ही अंतरिक्ष में भेजने में सक्षम रहा है।…