गणतंत्र दिवस पर 10 देशों के नेताओं की मेजबानी गर्व की बात: नरेंद्र मोदी

narendra-modi5

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि 2018 का गणतंत्र दिवस समारोह ‘युगों तक याद किया जाएगा’ क्योंकि सरकार भारत के इतिहास में पहली बार 26 जनवरी पर 10 आसियान देशों के नेताओं की मुख्य अतिथि के तौर पर मेजबानी करेगी।

मोदी ने साल के अंत के अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में कहा, ” दुनिया के 10 देशों के नेताओं का 26 जनवरी को यहां पहुंचना सभी भारतीयों के लिए गर्व की बात होगी।” उन्होंने कहा कि 26 जनवरी सभी भारतीयों के लिए एक ऐतिहासिक त्योहार है, लेकिन ’26 जनवरी, 2018 को खास तौर से युगों तक याद किया जाएगा।’

{ यह भी पढ़ें:- स्वास्थ्य लाभ ले रहे अरूण जेटली ने सोशल मीडिया से विपक्ष को बनाया निशाना, कहीं ये बाते... }

प्रधानमंत्री ने कहा, “गणतंत्र दिवस मुख्य अतिथि के तौर पर भारत आने वाले सभी 10 आसियान (दक्षिणपूर्व एशियाई राष्ट्रों के संगठन) देशों के नेताओं के साथ मनाया जाएगा। इस बार एक नहीं बल्कि दस मुख्य अतिथि गणतंत्र दिवस की शोभा बढ़ाएंगे। यह भारतीय इतिहास में अभूतपूर्व है।” उन्होंने कहा कि साल 2017 आसियान व भारत दोनों के लिए खास रहा क्योंकि दक्षिणपूर्व एशियाई समूह ने अपने गठन के 50 साल पूरे कर लिए हैं और इस समूह के साथ भारत की साझेदारी का यह 25वां साल रहा।

उन्होंने कहा, “भारत आसियान के नेताओं के स्वागत के लिए तत्पर है।” आसियान में ब्रूनेई, कंबोडिया, इंडोनेशिया, लाओस, मलेशिया, म्यांमार, फिलीपींस, सिंगापुर, थाईलैंड व वियतनाम शामिल हैं।

{ यह भी पढ़ें:- पीएम मोदी के इस फैन ने हूबहू एक्सेप्ट किया मोदी चैलेंज, देखें वीडियो }

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि 2018 का गणतंत्र दिवस समारोह 'युगों तक याद किया जाएगा' क्योंकि सरकार भारत के इतिहास में पहली बार 26 जनवरी पर 10 आसियान देशों के नेताओं की मुख्य अतिथि के तौर पर मेजबानी करेगी। मोदी ने साल के अंत के अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में कहा, " दुनिया के 10 देशों के नेताओं का 26 जनवरी को यहां पहुंचना सभी भारतीयों के लिए गर्व की बात होगी।"…
Loading...