ख्वाज़ा के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम में वापसी करना बेहद मुश्किल होगा- रिकी पोंटिंग

khawaja
ख्वाज़ा के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम में वापसी करना बेहद मुश्किल होगा- रिकी पोंटिंग

ऑस्ट्रेलिया की वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम के दो बार कप्तान रहे रिकी पोंटिंग ने कहा है कि सीनियर बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा को प्रदर्शन में निरंतरता की कमी के कारण उन्हें नैशनल टीम से बाहर किया गया, साथ ही पोंटिंग ने यह भी कहा कि उनकी टीम में वापसी अब मुश्किल होगी। 33 साल के ख्वाजा को हाल में ऑस्ट्रेलिया के अनुबंधित खिलाड़ियों की सालाना लिस्ट में जगह नहीं मिली थी। पिछले साल एशेज सीरीज के बीच में ख्वाजा को टीम से बाहर कर दिया गया था।

It Will Be Very Difficult For Khwaja To Return To The Australian Team Ricky Ponting :

पोंटिंग ने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मुझे लगता है कि उसे मुश्किल होगी (ऑस्ट्रेलियाई टीम में वापसी करने में) और मुझे उसके लिए दुख है।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे हमेशा से लगता है कि वो काफी अच्छा खिलाड़ी है और हमने इंटरनैशनल क्रिकेट में शायद कभी उसका बेस्ट प्रदर्शन नहीं देखा है। हमने इसकी झलक देखी है, लेकिन मुझे नहीं लगता कि ऑस्ट्रेलिया के लिए उसके प्रदर्शन में निरंतरता रही है।’ पोंटिंग ने हालांकि उम्मीद जताई कि ख्वाजा घरेलू क्रिकेट ढेरों रन बनाकर इंटरनैशनल लेवल पर वापसी कर पाएगा।

उन्होंने कहा, ‘एक चीज मुझे पता है, आप कभी दिग्गज खिलाड़ियों को चुका हुआ नहीं मान सकते। इन गर्मियों में घरेलू क्रिकेट के शुरू होने पर उसे मौके मिलेंगे और वो इतना कर सकता है कि क्वीन्सलैंड के लिए खेले, खूब रन बनाए और एक और मौका मिलने का इंतजार करे।’ उन्होंने कहा, ‘अगर ऐसा होता है तो मुझे यकीन है कि अगर उसे दोबारा खेलने का मौका मिलता है तो वो निराश नहीं करेगा।’ ख्वाजा ने ऑस्ट्रेलिया की ओर से 44 टेस्ट और 40 वनडे इंटरनैशनल मैचों में क्रम से 2887 और 1554 रन बनाए। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में आठ सेंचुरी और 14 हाफसेंचुरी जबकि वनडे इंटरनैशनल में दो सेंचुरी ठोकी हैं।

ऑस्ट्रेलिया की वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम के दो बार कप्तान रहे रिकी पोंटिंग ने कहा है कि सीनियर बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा को प्रदर्शन में निरंतरता की कमी के कारण उन्हें नैशनल टीम से बाहर किया गया, साथ ही पोंटिंग ने यह भी कहा कि उनकी टीम में वापसी अब मुश्किल होगी। 33 साल के ख्वाजा को हाल में ऑस्ट्रेलिया के अनुबंधित खिलाड़ियों की सालाना लिस्ट में जगह नहीं मिली थी। पिछले साल एशेज सीरीज के बीच में ख्वाजा को टीम से बाहर कर दिया गया था। पोंटिंग ने कहा, 'ईमानदारी से कहूं तो मुझे लगता है कि उसे मुश्किल होगी (ऑस्ट्रेलियाई टीम में वापसी करने में) और मुझे उसके लिए दुख है।' उन्होंने कहा, 'मुझे हमेशा से लगता है कि वो काफी अच्छा खिलाड़ी है और हमने इंटरनैशनल क्रिकेट में शायद कभी उसका बेस्ट प्रदर्शन नहीं देखा है। हमने इसकी झलक देखी है, लेकिन मुझे नहीं लगता कि ऑस्ट्रेलिया के लिए उसके प्रदर्शन में निरंतरता रही है।' पोंटिंग ने हालांकि उम्मीद जताई कि ख्वाजा घरेलू क्रिकेट ढेरों रन बनाकर इंटरनैशनल लेवल पर वापसी कर पाएगा। उन्होंने कहा, 'एक चीज मुझे पता है, आप कभी दिग्गज खिलाड़ियों को चुका हुआ नहीं मान सकते। इन गर्मियों में घरेलू क्रिकेट के शुरू होने पर उसे मौके मिलेंगे और वो इतना कर सकता है कि क्वीन्सलैंड के लिए खेले, खूब रन बनाए और एक और मौका मिलने का इंतजार करे।' उन्होंने कहा, 'अगर ऐसा होता है तो मुझे यकीन है कि अगर उसे दोबारा खेलने का मौका मिलता है तो वो निराश नहीं करेगा।' ख्वाजा ने ऑस्ट्रेलिया की ओर से 44 टेस्ट और 40 वनडे इंटरनैशनल मैचों में क्रम से 2887 और 1554 रन बनाए। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में आठ सेंचुरी और 14 हाफसेंचुरी जबकि वनडे इंटरनैशनल में दो सेंचुरी ठोकी हैं।