1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Jahangirpuri violence: असदुद्दीन ओवैसी बोले- दिल्ली पुलिस क्या तमाशा देखने के लिए बैठी थी?

Jahangirpuri violence: असदुद्दीन ओवैसी बोले- दिल्ली पुलिस क्या तमाशा देखने के लिए बैठी थी?

दिल्ली के जहांगीरपुरी हिंसा (Jahangirpuri violence) मामले में सोमवार को AIMIM के चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। उन्होंने कहा कि हिंसा का आरोपी अंसार शांति कायम करने गया था। ओवैसी ने कहा कि सोमवार को दिल्ली पुलिस के कमिश्नर (Delhi Police Commissioner) खुद ये कहा है कि जहांगीरपुरी में जो जुलूस निकाला गया वो बिना इजाजत के निकाला गया। जब जुलूस निकाला जा रहा था। तब पुलिस क्या कर रही थी? पुलिस तमाशा देखने के लिए बैठी थी? और जुलूस में हथियारों की क्या जरूरत थी?

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। दिल्ली के जहांगीरपुरी हिंसा (Jahangirpuri violence) मामले में सोमवार को AIMIM के चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केंद्र की मोदी व दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर जमकर हमला बोला है।

पढ़ें :- BBC Documentary Controversy: दिल्ली से लेकर मुंबई तक बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर हंगामा

उन्होंने कहा कि हिंसा का आरोपी अंसार शांति कायम करने गया था। ओवैसी ने कहा कि सोमवार को दिल्ली पुलिस के कमिश्नर (Delhi Police Commissioner) खुद ये कहा है कि जहांगीरपुरी में जो जुलूस निकाला गया वो बिना इजाजत के निकाला गया। जब जुलूस निकाला जा रहा था। तब पुलिस क्या कर रही थी? पुलिस तमाशा देखने के लिए बैठी थी? और जुलूस में हथियारों की क्या जरूरत थी? दो शोभा यात्रा शांतिपूर्वक निकाली गईं, तीसरे में यह सब कैसे हुआ?

ओवैसी ने कहा कि सांप्रदायिक हिंसा (communal violence) उस वक्त ही होती है। जब सरकार चाहती है। जब सरकार नहीं चाहती है । तब नहीं होती है। तो यहां पर भी सरकार ने सांप्रदायिक हिंसा होने दी। सरकार के सामने सब कुछ हो रहा है, जिसकी पूरी जिम्मेदारी मोदी सरकार पर आती है। दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल ने पूरा आरोप मुसलमानों पर लगा दिया। उनको शर्म नहीं आती है इस तरह के बयान देने में कि मुसलमानों ने पत्थर फेंके। जब चुनाव आते हैं। तब आप सबके वोट लेते हैं और जब ऐसे मामले सामने आते हैं। तब आप अपना असली चेहरा दिखाते हैं।

बता दें कि इससे पहले भी रविवार को ओवैसी ने ट्वीट करते हुए कहा था कि बिना इंसाफ के भाईचारा मुमकिन नहीं है। क्या तमंचाधारियों के खिलाफ आर्स एक्ट लगेगा? गिरफ्तार 14 आरोपियों में सभी मुसलमान हैं। क्या हथियार लेकर घूमना अब अपराध नहीं रहा है? एकतरफा कार्रवाई से दुनिया को क्या पैगाम दे रहे हैं?

ओवैसी ने दिल्ली पुलिस की गिरफ्तारी पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि अंसार नाम के जिस शख्स का वीडियो सामने आया है, वो एक लड़के को समझा रहा है उसे क्यों गिरफ्तार किया गया? पुलिस एकतरफा कार्रवाई कर रही है। अंसार के जो हिन्दू पड़ोसी हैं वो खुद उसके कैरेक्टर के बारे में तारीफ कर रहे हैं। अंसार दंगा कंट्रोल कर रहा था। AIMIM चीफ ओवैसी ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर भी हमला बोला है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के सीएम ने तो मुसलमानों पर ही आरोप लगा दिया। वो चुनावों में मुस्लिमों के हितैशी बन जाते हैं और अब ऐसी बात कर रहे हैं।

पढ़ें :- Hindenburg Research Report से शेयर बाजार में मचा तहलका, अडानी ग्रुप में जानें कितना लगा है सरकारी पैसा, सकते में LIC और बड़े बैंक

एकतरफा हो रही है कार्रवाई: ओवैसी

ओवैसी ने आगे कहा कि मैं दिल्ली सरकार और मोदी सरकार के ऊपर आरोप लगा रहा हूं। एकतरफा कार्रवाई हो रही है। मस्जिद के सामने झंडे लगाए जाते हैं, वो वीडियो कोई क्यों नहीं दिखाते। आप स्लेक्टिव लॉ अप्लाई कर रहे हैं। दिल्ली की कानून-व्यवस्था केंद्र सरकार के अधीन आती है। दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाते हुए ओवैसी ने कहा कि अपनी नाकामी छुपाने के लिए कम से कम झूठ तो मत बोलो।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...