NIA करेगी सिमी आतंकियों के फरार होने की जांच : शिवराज सिंह चौहान

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी की केंद्रीय जेल से प्रतिबंधित संगठन स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) के आठ आतंकवादियों के फरार होने की घटना की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) से कराने की घोषणा की है। ज्ञात हो कि रविवार देर रात भोपाल की केंद्रीय जेल से सिमी के आठ आतंकवादी एक प्रहरी की गला रेंतकर हत्या करके और एक अन्य को बंधक बनाने के बाद फरार हो गए थे, जिन्हें कुछ ही घंटों बाद पुलिस ने राजधानी से 25 किलोमीटर दूर गुनगा थाना क्षेत्र के अचारपुरा के जंगल में मार गिराया।

राज्य के मुख्यमंत्री चौहान ने अपने आवास पर सोमवार को संवाददाताओं से चर्चा में आठों आतंकवादियों को मार गिराने की पुलिस की कार्रवाई की सराहना की, साथ ही आतंकवादियों के फरार होने की घटना को चिंताजनक बताया। उन्होंने कहा, “ये आतंकवादी सिर्फ राज्य के लिए ही नहीं, देश के लिए भी चिंता का विषय रहे हैं। इस मसले पर उनकी केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से चर्चा हुई है।” सिंह ने उनके (चौहान) अनुरोध पर आतंकवादियों के फरार होने की एनआईए से जांच कराने की बात कही है।




उन्होंने आगे कहा कि जेल के पांच अधिकारियों उप महानिरीक्षक, अधीक्षक, उपाधीक्षक, सहायक अधीक्षक और मुख्य जेल प्रहरी को निलंबित कर दिया गया है। वहीं, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (जेल) को उनके पद से हटाकर पुलिस मुख्यालय में सलग्न कर दिया गया है।