जैश ने रची दिल्ली को दहलाने की साजिश, नौ जगहों पर छापेमारी

delhi
जैश ने रची दिल्ली को दहलाने की साजिश, नौ जगहों पर छापेमारी

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद से बौखलाया पाकिस्तान देश के अमन में खलल डालने की फिराक में है। त्योहारों के मौसम में पाक के आतंकी दिल्ली को दहलाने की फिराक में हैं। खुफिया सूत्रों से जानकारी मिली है कि दिल्ली में तीन-चार आतंकी मौजूद हैं। बताया जा रहा है कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती (फिदायीन) आतंकी पिछले हफ्ते शहर पहुंच गए हैं। आतंकी हमले को लेकर बुधवार को रेड अलर्ट जारी किया गया।
बताया जा रहा है कि यह आतंकी जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को निष्प्रभावी करने का बदला लेना चाहते हैं। राजधानी में मौजूद आतंकियों में कम से कम दो विदेशी (पाकिस्तानी) आतंकी है। रात के नौ बजे दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और खुफिया एजेंसियों ने शहर के नौ स्थानों पर छापेमारी की। दो संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

Jaish Conspired To Terrorize Delhi Raids At Nine Places :

छापेमारी सीलमपुर और उत्तर पूर्वी दिल्ली के दो स्थानों, जामिया नगर और सेंट्रल दिल्ली के पहाड़गंज स्थित दो जगहों पर की गई। विदेशी खुफिया एजेंसी ने कुछ दिनों पहले जैश के ऑपरेटिव और उसके हैंडलर की बातचीत को इंटरसेप्ट किया था। विदेशी खुफिया एजेंसी के अनुसार जैश भारत में सितंबर 25 और 30 के बीच आतंकी हमले की योजना बना रहा था। जिसके बाद जम्मू, अमृतसर, पठानकोट, जयपुर, गांधीनगर, कानपुर के साथ-साथ लखनऊ सहित कुल 30 शहरों को हाई अलर्ट पर रखा गया।

खुफिया इनपुट के अनुसार जैश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को अपना निशाना बनाने के लिए स्पेशल स्कवायड को तैयार कर रहा है। एक खुफिया अधिकारी का कहना है कि यह वही स्कवायड हो सकता है जो दिल्ली में दहशत फैलाने के इरादे से आया है। इस ऑपरेशन को मौलाना मसूद अजहर और उसका बेटा संचालित कर रहे हैं।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद से बौखलाया पाकिस्तान देश के अमन में खलल डालने की फिराक में है। त्योहारों के मौसम में पाक के आतंकी दिल्ली को दहलाने की फिराक में हैं। खुफिया सूत्रों से जानकारी मिली है कि दिल्ली में तीन-चार आतंकी मौजूद हैं। बताया जा रहा है कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती (फिदायीन) आतंकी पिछले हफ्ते शहर पहुंच गए हैं। आतंकी हमले को लेकर बुधवार को रेड अलर्ट जारी किया गया। बताया जा रहा है कि यह आतंकी जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को निष्प्रभावी करने का बदला लेना चाहते हैं। राजधानी में मौजूद आतंकियों में कम से कम दो विदेशी (पाकिस्तानी) आतंकी है। रात के नौ बजे दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और खुफिया एजेंसियों ने शहर के नौ स्थानों पर छापेमारी की। दो संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। छापेमारी सीलमपुर और उत्तर पूर्वी दिल्ली के दो स्थानों, जामिया नगर और सेंट्रल दिल्ली के पहाड़गंज स्थित दो जगहों पर की गई। विदेशी खुफिया एजेंसी ने कुछ दिनों पहले जैश के ऑपरेटिव और उसके हैंडलर की बातचीत को इंटरसेप्ट किया था। विदेशी खुफिया एजेंसी के अनुसार जैश भारत में सितंबर 25 और 30 के बीच आतंकी हमले की योजना बना रहा था। जिसके बाद जम्मू, अमृतसर, पठानकोट, जयपुर, गांधीनगर, कानपुर के साथ-साथ लखनऊ सहित कुल 30 शहरों को हाई अलर्ट पर रखा गया। खुफिया इनपुट के अनुसार जैश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को अपना निशाना बनाने के लिए स्पेशल स्कवायड को तैयार कर रहा है। एक खुफिया अधिकारी का कहना है कि यह वही स्कवायड हो सकता है जो दिल्ली में दहशत फैलाने के इरादे से आया है। इस ऑपरेशन को मौलाना मसूद अजहर और उसका बेटा संचालित कर रहे हैं।