जैश के आतंकी निसार अहमद ने किया खुलासा, कहा, पुलवामा हमले की पहले से थी जानाकरी

nishar ahamd tantre
जैश के आतंकी निसार अहमद ने किया खुलासा, कहा, पुलवामा हमले की पहले से थी जानाकरी

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले की जानकारी जैश—ए—मोहम्मद के सदस्य निसार अहमद ​तांत्रे को पहले से थी। पूछताछ में निसार अहमद ने इसका खुलासा किया है। उसने बताया कि हमले के साजिशकर्ता मुदस्सिर खान के संपर्क में था और उसे भी हमले में शामिल होने को कहा था।

Jaishs Terrorist Nisar Ahmed Did The Disclosure Said Before The Pulwama Assault Was Known :

पुलवामा में हमले के बाद जैश—ए—मोहम्मद ने इसकी जिम्मेदारी ली थी। वहीं निसार अहमद तांत्रे से पूछताछ में शामिल एक अधिकारी ने यह जानकारी बताई है। पुलवामा में सीआरपीएफ पर आतंकी हमला जैश—ए—मोहम्मद ने कराई थी। इस हमले की जानकारी इस संगठन के सदस्य निसार अहमद तांत्रे को थी।

बता दें तांत्रे को करीब एक हफ्ते पहले ही यूएई ने भारत को सौंपा है। पूछताछ में तांत्रों ने खुलासा किया कि उसे हमले की जानकारी पहले ही थी। वह हमले के साजिशकर्ता मुदस्सिर खान के संपर्क मेें था। पूछताछ में उसने खुलासा किया कि जैश—ए—मोहम्मद के आतंकियों ने पुलवामा में आतंकी हमला किया था और खान ही वो व्यक्ति है जिसने हमले का नेतृत्व कर इसे अंजाम दिया।

तांत्रे के द्वारा किए गए खुलासे से पहले भारतीय जांच एजेंसियां खुफिया जानकारी और जैश के निचले स्तर के आतंकियों से पूछताछ पर ही निर्भर थीं। निसार अहमद तांत्रे जैश के मारे गये आतंकी नूर अहमद का भाई है। जो इस इस वर्ष फरवरी में भारत से फरार हेा गया था।

पूछताछ में तांत्रे ने खुलासा किया कि सोशल मीडिया एप की सहायता से खान ने उसे हमले की योजना के बारे में पूरी जानकारी दी थी। इसके साथ ही तांत्रे से हमला में मदद भी मांगी थी। तांत्रे घाटी में जैश का सीनियर कमांडर रह चुका है।

वहीं तांत्रे ने पुलवामा हमले में शामिल होने की बात से इंकार किया है। गौरतलब है कि पुलवामा में आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर आतं​की हमला किया था। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गये थे।

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले की जानकारी जैश—ए—मोहम्मद के सदस्य निसार अहमद ​तांत्रे को पहले से थी। पूछताछ में निसार अहमद ने इसका खुलासा किया है। उसने बताया कि हमले के साजिशकर्ता मुदस्सिर खान के संपर्क में था और उसे भी हमले में शामिल होने को कहा था।

पुलवामा में हमले के बाद जैश—ए—मोहम्मद ने इसकी जिम्मेदारी ली थी। वहीं निसार अहमद तांत्रे से पूछताछ में शामिल एक अधिकारी ने यह जानकारी बताई है। पुलवामा में सीआरपीएफ पर आतंकी हमला जैश—ए—मोहम्मद ने कराई थी। इस हमले की जानकारी इस संगठन के सदस्य निसार अहमद तांत्रे को थी।

बता दें तांत्रे को करीब एक हफ्ते पहले ही यूएई ने भारत को सौंपा है। पूछताछ में तांत्रों ने खुलासा किया कि उसे हमले की जानकारी पहले ही थी। वह हमले के साजिशकर्ता मुदस्सिर खान के संपर्क मेें था। पूछताछ में उसने खुलासा किया कि जैश—ए—मोहम्मद के आतंकियों ने पुलवामा में आतंकी हमला किया था और खान ही वो व्यक्ति है जिसने हमले का नेतृत्व कर इसे अंजाम दिया।

तांत्रे के द्वारा किए गए खुलासे से पहले भारतीय जांच एजेंसियां खुफिया जानकारी और जैश के निचले स्तर के आतंकियों से पूछताछ पर ही निर्भर थीं। निसार अहमद तांत्रे जैश के मारे गये आतंकी नूर अहमद का भाई है। जो इस इस वर्ष फरवरी में भारत से फरार हेा गया था।

पूछताछ में तांत्रे ने खुलासा किया कि सोशल मीडिया एप की सहायता से खान ने उसे हमले की योजना के बारे में पूरी जानकारी दी थी। इसके साथ ही तांत्रे से हमला में मदद भी मांगी थी। तांत्रे घाटी में जैश का सीनियर कमांडर रह चुका है।

वहीं तांत्रे ने पुलवामा हमले में शामिल होने की बात से इंकार किया है। गौरतलब है कि पुलवामा में आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर आतं​की हमला किया था। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गये थे।