मांगों को लेकर स्कीम वर्कर्स का धरना 21 को

जालौन। आंगनबाड़ी कर्मचारी यूनियन संबद्ध सीटू की जिला अध्यक्ष संगीता कटियार एवं मिडडेमील रसोइया कर्मचारी यूनियन संबद्ध सीटू की राज्य कमेटी सदस्य कमलेश यादव ने यहां जारी विज्ञप्ति में बताया कि स्कीम वर्कर्स की मांगों को लेकर 21 अक्टूबर को संयुक्त प्रदर्शन एवं धरना लखनऊ लक्ष्मण मेला मैदान में आयोजित किया जाएगा। जिसमें प्रमुख मांगे स्कीम वर्कस को न्यूनतम वेतन 1800 रुपये दिया जाए और राज्य कर्मचारी का दर्जा दिया जाए, स्कीम वर्कस के आयोेग में यूनियन के प्रतिनिधि का चयन अनिवार्य हों, 45 वे श्रम सम्मेलन की सिफारिशों को अभिलंब लागू किया जाए और सामाजिक सुरक्षा की गारंटी दी जाए।



उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी के आंदोलन में कुछ निहित स्वार्थी नेताओं द्वारा जो सरकार से सौदेवाजी की उसके खिलाफ आंदोलन को आगे बढ़ाने का फैसला किया गया। स्कीम वर्कर्स के तहत कार्यरत आशा बहुओं को केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा कोई भी मानदेय नही दिया जा रहा है। वर्षो से आंगनबाड़ी के प्रमोशन एवं हेल्पर का कोई भी प्रमोशन सरकार नही कर रही है। बल्कि इसके विरोध में 21 अक्टूबर को लखनऊ लक्ष्मण मेला मैदान में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों एवं सहायिका, मिडडेमील, आशा बहु, चौकीदार, किसानों से अपील की कि ज्यादा से ज्यादा संख्या में पहुचकर धरना प्रदर्शन को सफल बनाए।

जालौन से सौरभ पांडेय की रिपोर्ट

Loading...