जिद पर अड़े डिप्लोमा इंजीनियर्स की अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी

जालौन। उत्तर प्रदेश डिप्लोमाा इंजीनियर्स महासंघ के प्रांतीय नेतृत्व के आवाहन पर महासंघ की चौदह सूत्रीय मांगों के समर्थन में अनिश्चित कालीन हड़ताल आज बुधवार को भी डिप्लोमा इंजीनियर्स लोक निर्माण विभाग परिसर में जुटे रहे। संघर्ष समिति के चेयरमेन बीर सिंह यादव ने कहा कि प्रदेश के समस्त जूनियर इंजीनियर्स चौदह सूत्रीय मांगों को लेकर तब तक हड़ताल पर रहेगे जब तक सरकार शासनादेश जारी नही कर देती। प्रोन्नत सहायक अभियंता इंजी. हरिलाल ने सदस्यों से कहा कि आप किसी बहकावे में न आए और पूर्ण मनोयोग से संगठित होकर हड़ताल को सफल बनाए।



क्षेत्रीय संगठन सचिव इंजी. सतीश शर्मा ने बताया कि सरकार के विकास कार्य की रीढ़ कहे जाने वाले अवर अभियंताओं की सुध नही ले रही है। जबकि स्थानीय जनप्रतिनिधियों सांसद भानु प्रताप वर्मा एवं विधायक संतराम कुशवाहा ने जूनियर इंजीनियर्स की मांगों को जायज ठहराते हुए ज्ञापन के माध्यम से 4800 ग्रेड पे को देने के लिए मुख्यमंत्री से सिफारिस भी की है। क्षेत्रीय उपाध्यक्ष इंजी. शफीउल्ला ने कहा कि अब वक्त आ गया है आरपार की लड़ाई लड़ी जाएगी जब तक मांगे पूरी नही होती हड़ताल वापस नही ली जाएगी। उत्तर प्रदेश डिप्लोमा इंजीनियर लोक निर्माण विभाग के जनपद अध्यक्ष इंजी. देवीदयाल ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मांगों की सहमति बनने के उपरांत एवं बार-बार आश्वासन देने के बाद भी शासनादेश जारी नही किया गया जिस कारण प्रदेश भर के 24 हजार जूनियर इंजीनियर हड़ताल के लिए विवश है।

हड़ताल में इंजी. भगवती प्रसाद, इंजी. आरके द्विवेदी, इंजी. शत्रुघन सिंह, इंजी. मनोज श्रीवास्तव, इंजी. सुनील कटियार, इंजी. कमलेश बाबू, इंजी. धर्मेन्द्र कुमार, इंजी. संतोष कुमार, इंजी. रामदास, इंजी. आनंद नारायण, इंजी. कमलेश बाबू, इंजी. राघवेन्द्र, इंजी. दिलीप कुमार राजौरिया, इंजी. जगदीश, इंजी. सौरभ, इंजी. इंदल सिंह यादव, आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन प्रशांत सक्सेना द्वारा किया गया।



प्रधानाचार्य छत से गिरकर घायल

उरई (जालौन)। बुधवार की प्रातः स्थानीय एसबीडीएम इंटर कालेज के प्रधानाचार्य अचानक छत से गिर गये जिससे उनके पैरों में गंभीर चोटें आने के बाद उन्हें उपचार के लिये अस्पताल में भर्ती कराया गया। जालौन के एसबीडीएम इंटर कालेज दयानगर जालौन के प्रधानाचार्य मोहित श्रीवास्तव निवासी मोहल्ला दबगरान बुधवार की प्रातः किसी कार्य से छत पर गये थे तभी असंतुलित होकर वह छत से नीचे गिर गये जिससे उनके दोनों पैरों में गंभीर चोटें आने के बाद घर वालों ने चिकित्सालय में भर्ती कराया।

छत से गिरी युवती की मौत

जालौन। ग्राम बबीना में जब एक युवती अपने मकान की छत से दूसरी मंजिल पर पानी की सटर फेंक रही थी उसी दौरान वह असंतुलित हो गयी और जब तक वह कुछ समझ पाती छत से गिरकर जमीन पर आ गयी जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। बताया जाता है कि मृतका अपने पिता के घर आयी थी।

मिली जानकारी के अनुसार कदौरा थाना अंतर्गत ग्राम बबीना निवासी सुनीता पत्नी रमाकांत शुक्ला अपने पिता के घर बबीना में आयी थी। आज प्रातः वह अपने मकान की छत से दूसरी मंजिल पर पानी की सटर फेंक रही थी तभी उसका पैर डगमगा गया और वह छत से जमीन पर जा गिरी जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। जैसे ही उक्त नजारा मृतका के परिजनों ने देखा तो समूचे परिवार में कोहराम मच गया। बाद में घटना की सूचना मृतका के ससुराल वालों को दी।



सेठ बद्रीप्रसाद स्मृति महाविद्यालय में रक्तदान शिविर सम्पन्न

जालौन। सेठ बद्रीप्रसाद स्मृति महाविद्यालय में आयोजित एक दिवसीय रक्तदान शिविर में युवाओ ने जोश दिखाया। और रक्त का दान किया। आयोजित कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि डॉ. एस. के गुप्ता झॉसी विशिष्ट अतिथि ई. राजीव गोयल शुभम अग्रवाल की अध्यक्षता की आशुतोष गुप्ता ने। सबसे पहले सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण किया गया तदुपरांत अतिथयो का स्वागत किया महाविद्यालय के कोर्डिनेटर कन्हैया नीखर ने। रक्तदान शिविर में रक्त डोनर टीम डा. एस. के गुप्ता आर.एस. चन्देल आशीष यादव दिनेश कुमार (लैब टैक्नीशियन) हरित प्रभा काउंसलर अपूर्ण राजपूत स्टाफ नर्स राजपाल सिंह राजपूत वाहन चालक दशरथ आदि लोग टीक में उपस्थित थे। वही विशिष्ट अतिथि राजीव गोयल ने विचार व्यक्त करते हुये कहा कि रक्तदान के महत्व को हमे जीवन में अपनाना होगा दूसरो को प्रेरणा देने का काम करेगा। हमें रक्तदान स्वयं करना होगा और दूसरों को प्रेरित करना होगा। रक्तदान करने वालो में कन्हैया नीखर सत्यवीर सिंह पवन यादव सुबोध कुमार तराना बानो आदि प्रमुख थे।

जालौन से सौरभ पांडेय की रिपोर्ट

Loading...