एड्स के प्रति लोगों को जागरुक करने का संकल्प लिया छात्र-छात्राओं ने

जालौन । स्थानीय लक्ष्मीचरण हुब्बलाल महाविद्यालय करसान में विश्व एड्स दिवस पर एड्ए जागरुकता गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें छात्र-छत्राओं के साथ ही बड़ी संख्या में आए लोगों को एड्स बचाव की जानकारी उपलब्ध कराई गई।




महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना की प्रथम एवं द्वितीय इकाई की छात्र-छात्राओं ने एड्स के संक्रमण तथा उससे बचने के उपायों की जानकारी दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए डा. सरोज भाटिया ने बताया कि एड्स का बचाव की उसका इलाज है। उन्होंने एड्स फैलने वाले कारणों की जानकारी देते हुए कहा कि अब तक इसके उपचार का कोई इलाज उपलब्ध नही है इसलिए एड्स से बचाव ही उसका उपचार है।




हालांकि उन्होंने बताया कि एड्स संक्रामक रोग नही है और अगर जानकारी होने पर उसका बचाव भी किया जा सकता है। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं से एड्स के प्रति जन सामान्य को जागरुक करने का आवाहन किया गया। इस अवसर पर प्रतिष्ठा दांतरे, दीक्षा नगायच, नीरज पाल प्रगति यादव, राहुल, मोहिनी पाल मोहित, सुनील, अभिलाषा, भरतशरण, आदि प्राध्यापक एवं छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

जालौन से सौरभ पाण्डेय की रिपोर्ट