जामिया फायरिंग: अखिलेश, प्रियंका और ओवैसी ने BJP को ठहराया जिम्मेदार, PM पर भी साधा निशाना

priyanka gandhi
जामिया फायरिंग: अखिलेश, प्रियंका और ओवैसी ने BJP को ठहराया जिम्मेदार, PM पर भी साधा निशाना

नई दिल्ली। दिल्ली के जामिया विश्वविद्यालय के पास नागरिकता कानून के विरोध में चल रहे प्रदर्शन में अचानक एक शख्स ने पंहुचकर फायरिंग कर दी। हालांकि पुलिस ने उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया लेकिन फायरिंग की वजह से एक छात्र घायल हो गया। इस घटना के बाद जहां देश में लगातार प्रदर्शन शुरू हो गये वहीं विपक्षी पार्टियों ने भी मोदी सरकार को घेर लिया है। प्रियंका गांधी ने एकबार फिर ट्वीट कर इस घटना के लिए मोदी सरकार को निशाना बनाया है।

Jamia Firing Akhilesh Priyanka And Owaisi Held Bjp Responsible Also Targeted Pm :

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा, “जब भाजपा सरकार के मंत्री और नेता लोगों को गोली मारने के लिए उकसाएंगे, भड़काऊ भाषण देंगे तब ये सब होना मुमकिन है। प्रधानमंत्री को जवाब देना चाहिए कि वे कैसी दिल्ली बनाना चाहते हैं? वे हिंसा के साथ खड़े हैं या अहिंसा के साथ? वे विकास के साथ खड़े हैं या अराजकता के साथ?

वहीं समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने भी जामिया की घटना पर केंद्र सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “दिल्ली में एक युवक द्वारा निष्क्रिय पुलिस के सामने लोगों पर गोली चलाने की घटना बेहद निंदनीय है। आज के सत्ताधारी जिस प्रकार समाज को नफ़रत से भर रहे हैं, ये उसी का दुष्परिणाम है। आज राजनीति द्वारा पोषित घृणा से भटक रहे युवाओं व खुद को बचाना हर ज़िम्मेदार नागरिक का कर्तव्य है।

इस मामले में ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भी केंद्र सरकार पर तंज कसा है। उन्होने कहा कि कहा है कि प्रधानमंत्री अब उसे कपड़ों से पहचान लें, यही नही उन्होंने बीजेपी नेता अनुराग ठाकुर पर भी हमला बोला और उनके हाल ही में दिए गए विवादित बयान को लेकर उन्हें धन्यवाद दिया।

नई दिल्ली। दिल्ली के जामिया विश्वविद्यालय के पास नागरिकता कानून के विरोध में चल रहे प्रदर्शन में अचानक एक शख्स ने पंहुचकर फायरिंग कर दी। हालांकि पुलिस ने उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया लेकिन फायरिंग की वजह से एक छात्र घायल हो गया। इस घटना के बाद जहां देश में लगातार प्रदर्शन शुरू हो गये वहीं विपक्षी पार्टियों ने भी मोदी सरकार को घेर लिया है। प्रियंका गांधी ने एकबार फिर ट्वीट कर इस घटना के लिए मोदी सरकार को निशाना बनाया है। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा, "जब भाजपा सरकार के मंत्री और नेता लोगों को गोली मारने के लिए उकसाएंगे, भड़काऊ भाषण देंगे तब ये सब होना मुमकिन है। प्रधानमंत्री को जवाब देना चाहिए कि वे कैसी दिल्ली बनाना चाहते हैं? वे हिंसा के साथ खड़े हैं या अहिंसा के साथ? वे विकास के साथ खड़े हैं या अराजकता के साथ? वहीं समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने भी जामिया की घटना पर केंद्र सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, "दिल्ली में एक युवक द्वारा निष्क्रिय पुलिस के सामने लोगों पर गोली चलाने की घटना बेहद निंदनीय है। आज के सत्ताधारी जिस प्रकार समाज को नफ़रत से भर रहे हैं, ये उसी का दुष्परिणाम है। आज राजनीति द्वारा पोषित घृणा से भटक रहे युवाओं व खुद को बचाना हर ज़िम्मेदार नागरिक का कर्तव्य है। इस मामले में ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भी केंद्र सरकार पर तंज कसा है। उन्होने कहा कि कहा है कि प्रधानमंत्री अब उसे कपड़ों से पहचान लें, यही नही उन्होंने बीजेपी नेता अनुराग ठाकुर पर भी हमला बोला और उनके हाल ही में दिए गए विवादित बयान को लेकर उन्हें धन्यवाद दिया।