नजमा अख्तर जामिया मिल्लिया की पहली महिला कुलपति बनीं

c

नई दिल्ली। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने गुरुवार को तीन विश्वविद्यालयों के कुलपति नियुक्त किये। नियुक्यिों से पहले चुनाव आयोग ने इसके लिए मंजूरी दी क्योंकि लोकसभा चुनाव के कारण फिलहाल आदर्श आचार संहिता लागू हैं।

Jamia Millia Islamia Gets Its First Woman Vc President Approves Najma Akhtar For Post :


यी तीन विश्वविद्यालय जामिया मिल्लिया इस्लामिया, मोतिहारी के महात्मा गांधी गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय और वर्धा के महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय हैं। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा नजमा अख्तर को जामिया का कुलपति नियुक्त किया गया है। इतिहास में ऐसा पहली बार है जामिया में किसी महिला को वाइस चांसलर बनाया गया है।

एक सरकारी आदेश में कहा गया है कि जामिया मिल्लिया इस्लामिया अधिनियम 1988 के तहत प्राप्त अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए भारत के राष्ट्रपति ने जामिया के विजिटर की हैसियत से नई दिल्ली स्थित एनआईईपीएम में प्रोफेसर नजमा अख्तर को पांच साल के लिए जामिया मिल्लिया इस्लामिया का कुलपति नियुक्त किया।

सरकार ने पद के लिए आईआईटी दिल्ली के एसएम इश्तियाक, एसोसिएशन ऑफ यूनिवर्सिटीज के महासचिव पुुरकान कमर के नाम भी छांटे थे। मणिपुर की राज्यपाल नजपा हेपतुल्ल जामिया की कुलाधिपति हैं। पिछले साल तलत अहमद के कश्मीर विश्वविद्यालय के प्रमुख के तौर पर जाने के बाद से जामिया में बिना कुलपति के काम हो रहा था।

संजीव शर्मा और रजनीश कुमार शुक्ला के नामों को मोतिहारी केंद्रीय विश्वविद्यालय और वर्धा महात्मा गांधी विश्वविद्यालय के इस शीर्ष पद के लिए मंजूरी दी गयी है। रजनीश कुमार शुक्ला को वर्धा महात्मा गांधी विश्वविद्यालय के शीर्ष पद के लिए मंजूरी दी गयी है।

नई दिल्ली। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने गुरुवार को तीन विश्वविद्यालयों के कुलपति नियुक्त किये। नियुक्यिों से पहले चुनाव आयोग ने इसके लिए मंजूरी दी क्योंकि लोकसभा चुनाव के कारण फिलहाल आदर्श आचार संहिता लागू हैं।


यी तीन विश्वविद्यालय जामिया मिल्लिया इस्लामिया, मोतिहारी के महात्मा गांधी गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय और वर्धा के महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय हैं। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा नजमा अख्तर को जामिया का कुलपति नियुक्त किया गया है। इतिहास में ऐसा पहली बार है जामिया में किसी महिला को वाइस चांसलर बनाया गया है।

एक सरकारी आदेश में कहा गया है कि जामिया मिल्लिया इस्लामिया अधिनियम 1988 के तहत प्राप्त अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए भारत के राष्ट्रपति ने जामिया के विजिटर की हैसियत से नई दिल्ली स्थित एनआईईपीएम में प्रोफेसर नजमा अख्तर को पांच साल के लिए जामिया मिल्लिया इस्लामिया का कुलपति नियुक्त किया।

सरकार ने पद के लिए आईआईटी दिल्ली के एसएम इश्तियाक, एसोसिएशन ऑफ यूनिवर्सिटीज के महासचिव पुुरकान कमर के नाम भी छांटे थे। मणिपुर की राज्यपाल नजपा हेपतुल्ल जामिया की कुलाधिपति हैं। पिछले साल तलत अहमद के कश्मीर विश्वविद्यालय के प्रमुख के तौर पर जाने के बाद से जामिया में बिना कुलपति के काम हो रहा था।

संजीव शर्मा और रजनीश कुमार शुक्ला के नामों को मोतिहारी केंद्रीय विश्वविद्यालय और वर्धा महात्मा गांधी विश्वविद्यालय के इस शीर्ष पद के लिए मंजूरी दी गयी है। रजनीश कुमार शुक्ला को वर्धा महात्मा गांधी विश्वविद्यालय के शीर्ष पद के लिए मंजूरी दी गयी है।