1. हिन्दी समाचार
  2. शहीद हुए इंस्पेक्टर अरशद खान के परिवार वालों से मिले गृह मंत्री अमित शाह

शहीद हुए इंस्पेक्टर अरशद खान के परिवार वालों से मिले गृह मंत्री अमित शाह

Jammu And Kashmir Home Minister Amit Shah Meet Arshad Khan Family

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

जम्मू। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के जम्मू कश्मीर दौरे का आज दूसरा दिन है। अमित शाह आज शहीद इंस्पेक्टर अरशद खान के श्रीनगर स्थित आवास पर पहुंचे। यहां उन्होंने शहीद अरशद खान के परिवार से मुलाकात की।
आपको बता दें कि दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग में हुए आतंकी हमले में घायल एसएचओ अरशद खान का दिल्ली के एम्स में इलाज के दौरान निधन हो गया था। 12 जून को अनंतनाग में आतंकी हमला किया गया था।

पढ़ें :- महराजगंज:पैदल आई दुल्हन,सिर पर आया सामान

हमले में अरशद खान घायल हो गए थे। पहले उन्हें श्रीनगर में अस्पताल में भर्ती कराया गया थाए फिर अरशद खान को श्रीनगर के शेर ए कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज से एयर एंबुलेंस के जरिये दिल्ली एम्स लाया गया था लेकिन इलाज से पहले ही उनकी मौत हो गई।

डॉक्टरों के मुताबिक अरशद खान की हालत काफी नाजुक थी। शहीद एसएचओ अरशद 2002 में पुलिस में सब इंस्पेक्टर के तौर पर भर्ती हुए थे। 2013 में उन्हें पदोन्नति मिली। उन्होंने कई जगहों पर अपनी सेवाएं दीं। 2016 में बुरहान वानी के मारे जाने के बाद घाटी में पैदा हुए बवाल के चलते एसएचओ बीजबिहाड़ा में थे। जानकारी के अनुसार खान के पूर्वज पेशावर पाकिस्तान से थे। वह गत बुधवार को अनंतनाग में जैश के आतंकियों द्वारा किए गए आत्मघाती हमले में घायल हुए थेए जिसमें सीआरपीएफ के पांच जवान शहीद हुए थे।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के जम्मू-कश्मीर दौरे का आज दूसरा दिन है। अमित शाह से आज प्रदेश भाजपा विधानसभा क्षेत्रों के परिसीमन की मांग करेगी इसके अलावा सरपंचों व पंचों का तीस सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल भी गृहमंत्री से मुलाकात करेगा। आपको बता दें कि रियासत के पहले दौरे के दौरान प्रदेश भाजपा विधानसभा क्षेत्रों के परिसीमन की मांग पुरजोर तरीके से रखने का मन बना चुकी है।

प्रदेशाध्यक्ष रवींद्र रैना की अगुवाई में करीब सौ प्रमुख नेता शाह से मिलने के लिए श्रीनगर पहुंच चुके हैं। आज सुबह 11 से दोपहर 12.30 बजे तक प्रदेश भाजपा को विभिन्न मुद्दों पर अमित शाह के समक्ष अपना पक्ष रखने का समय निर्धारित हुआ है। पार्टी सूत्रों के अनुसार श्री अमरनाथ यात्रा में बस कुछ ही दिन शेष हैं। ऐसे में पार्टी चाहती हैं कि यात्रा के समय में कोई भी विवादित मुद्दे को ज्यादा तूल न मिले।

पढ़ें :- Hyderabad Election: रुझानों में हुआ बड़ा उलटफेर, टीआरएस निकली आगे, भाजपा हुई पीछे

हालांकि विधानसभा क्षेत्रों के परिसीमन की मांग को पुरजोर तरीके से केंद्रीय गृह मंत्री के समक्ष रखा जाएगा। पार्टी चाहती हैं कि विधानसभा क्षेत्रों का परिसीमन हो। इसके अलावा श्री अमरनाथ यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं की सुरक्षा व उन्हें बेहतर सुविधाएं देने के अलावा विधानसभा चुनाव के लिए प्रदेश में पार्टी की तैयारियों, अनुच्छेद 35ए और 370 को हटाने के संबंध में अपना पक्ष रखेगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...