1. हिन्दी समाचार
  2. जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों ने शोपियां में ध्वस्त किया आतंकी ठिकाना, हथियार और गोलाबारूद बरामद

जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों ने शोपियां में ध्वस्त किया आतंकी ठिकाना, हथियार और गोलाबारूद बरामद

Jammu And Kashmir Security Forces Demolish Terrorist Hideout Weapons And Ammunition In Shopian

By शिव मौर्या 
Updated Date

जम्मू। जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबल लगातार आतंकियों को ठीकाने लगा रहे हैं। इसको लेकर सुरक्षाबल आपरेशन चला रहे हैं। इसी क्रम में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। दरअसल, सुरक्षाबलों ने शोपियां जिले के यारवान क्षेत्र में आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़ किया है। इस ऑपरेशन को सेना की 62-राष्ट्रीय राइफल्स और शोपियां पुलिस ने अंजाम दिया है।

पढ़ें :- तमिलनाडु चुनाव से पहले ही शशिकला ने राजनीति से लिया सन्यास, कहा- सत्ता की लालसा नहीं

सुरक्षाबलों को आतंकी के ठिकाने से भारी मात्रा में गोलाबारूद और हथियार बरामद हुए हैं। इसके साथ ही कई आपत्तिजनक समान ​भी मिले हैं। वहीं जम्मू-कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच चल रही मुठभेड़ में दो दहशतगर्द ढेर कर दिए गए हैं। सेना की 22-आरआर, पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम इस ऑपरेशन को अंजाम दे रही है।

बता दें कि, पुलिस को जानकारी मिली की इलाके में दो से तीन आतंकी छुपे हुए हैं। इस पर पुलिस ने सुरक्षाबलों की मदद से संयुक्त आपरेशन चलाया। इस दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों की टीम पर फायरिंग कर दिया। कई घंटे तक चली मुठभेड़ में दो आतंकियों को मार गिराने में सुरक्षाबलों ने सफलता पाई। फिलहाल मुठभेड़ जारी है।

इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर के बडगाम में सुरक्षाबलों ने आज ही लश्कर के आतंकी मॉड्यूल का पर्दाफाश किया। जिसमें आतंकियों के पांच मददगार गिरफ्तार किए गए हैं। इनके पास से गोलाबारूद और कई आपत्तिजनक वस्तुएं बरामद हुई हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। आतंकियों के इन मददगारों की गिरफ्तारी के बाद कई अहम खुलासे होने की भी संभावना है।

पुलिस को सूचना मिली थी कि नरबल इलाके में आतंकियों के मददगार मौजूद हैं। इसी सूचना के आधार पर पुलिस और सेना की 2-राष्ट्रीय राइफल्स ने तलाशी अभियान शुरू किया। इस दौरान आतंकियों के पांच मददगारों को गिरफ्तार करने में सफलता मिली।

पढ़ें :- हाथरस गोलीकांड: सीएम योगी ने सपा पर साधा निशाना, कहा- हर अपराधी के साथ समाजवादी शब्द क्यों

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...