जम्मू-कश्मीर: आपको झकझोर देगी यह तस्वीर, गोलियों से छलनी दादा के शव पर बैठा रहा मासूम

crpf
जम्मू-कश्मीर: आपको झकझोर देगी यह तस्वीर, गोलियों से छलनी दादा के शव पर बैठा रहा मासूम

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में आज एक ऐसी भयावक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई, जिसे देखकर आपके रोंगेटे खड़े हो जायेंगे। आप इस तस्वीर को देखकर तनीक भी कल्पना भी नहीं कर सकोगे। दरअसल, आतंकियों ने सीआरपीएफ टीम पर हमला किया। इस दौरान वहां से गुजर रहे एक स्थानीय नागरिक भी आतंकियों की गोली के शिकार हो गए। इस दौरान उनके साथ एक मासूम बच्चा था।

Jammu And Kashmir This Picture Will Give You Shaking Innocent By Sitting On The Dead Body Of Bullet Riddled :

गोली लगते ही वह जमीन पर गिर पड़े। वहीं, इन सबसे अनजान मासूम अपने दादा के ऊपर बैठा रहा। उसे यकीन था कि उसके दादा उठेंगे और उसे घर लेकर जायेंगे। हकीकत से अंजान मासूम को देखकर सीआरपीएफ के जवान ने उसे बचाया और अपने पास बुलाकर उसे सुरक्षित स्थान पर भेजा। दरअसल, सोपोर में आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर घात लगाकर हमला किया था।

दोनों तरफ से गोलीबारी में सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया जबकि आतंकियों ने एक आम नागरिक की भी हत्या कर दी। इस दौरान वह अपने पोते को लेकर कहीं जा रहे थे। वहीं, घटना के बाद मासूम अपने दादा के शव के पास बैठा रहा। फिर इस उम्मीद में शख्स के सीने पर बैठ गया कि उसका दादा उसे गोद में उठाकर उसके लिए मिठाई खरीदेंगे। आज की तस्वीर यह तस्वीर दिल को दहला देने वाली है।

घटनास्थल पर मौजूद एक जवान ने उस बच्चे को अपनी तरफ बुलाया। बच्चा उठकर उस जवान के पास गया। फिर एक अन्य जवान आतंकियों की गोली से बचाने के लिए एक बच्चे को हाथ में लेकर उसे सुरक्षित स्थान पर ले जा रहा है। बीच में बच्चा रुआंसा हो जाता है तो जवान उसे समझाते हैं। उससे बात करते हैं। बाद में जवान उस बच्चे को एक गाड़ी में बैठाकर उसे उसकी मां के पास ले गए।

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में आज एक ऐसी भयावक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई, जिसे देखकर आपके रोंगेटे खड़े हो जायेंगे। आप इस तस्वीर को देखकर तनीक भी कल्पना भी नहीं कर सकोगे। दरअसल, आतंकियों ने सीआरपीएफ टीम पर हमला किया। इस दौरान वहां से गुजर रहे एक स्थानीय नागरिक भी आतंकियों की गोली के शिकार हो गए। इस दौरान उनके साथ एक मासूम बच्चा था। गोली लगते ही वह जमीन पर गिर पड़े। वहीं, इन सबसे अनजान मासूम अपने दादा के ऊपर बैठा रहा। उसे यकीन था कि उसके दादा उठेंगे और उसे घर लेकर जायेंगे। हकीकत से अंजान मासूम को देखकर सीआरपीएफ के जवान ने उसे बचाया और अपने पास बुलाकर उसे सुरक्षित स्थान पर भेजा। दरअसल, सोपोर में आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर घात लगाकर हमला किया था। दोनों तरफ से गोलीबारी में सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया जबकि आतंकियों ने एक आम नागरिक की भी हत्या कर दी। इस दौरान वह अपने पोते को लेकर कहीं जा रहे थे। वहीं, घटना के बाद मासूम अपने दादा के शव के पास बैठा रहा। फिर इस उम्मीद में शख्स के सीने पर बैठ गया कि उसका दादा उसे गोद में उठाकर उसके लिए मिठाई खरीदेंगे। आज की तस्वीर यह तस्वीर दिल को दहला देने वाली है। घटनास्थल पर मौजूद एक जवान ने उस बच्चे को अपनी तरफ बुलाया। बच्चा उठकर उस जवान के पास गया। फिर एक अन्य जवान आतंकियों की गोली से बचाने के लिए एक बच्चे को हाथ में लेकर उसे सुरक्षित स्थान पर ले जा रहा है। बीच में बच्चा रुआंसा हो जाता है तो जवान उसे समझाते हैं। उससे बात करते हैं। बाद में जवान उस बच्चे को एक गाड़ी में बैठाकर उसे उसकी मां के पास ले गए।