1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Jammu-Kashmir : किश्तवाड़ में बादल फटने से मरने वालों की संख्या 5 हुई, हेलिकॉप्टर्स से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

Jammu-Kashmir : किश्तवाड़ में बादल फटने से मरने वालों की संख्या 5 हुई, हेलिकॉप्टर्स से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

म्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के किश्तवाड़ (Kishtwar) में प्रकृति का रौद्र रूप देखने को मिला है। बादल फटने (cloudburst) से अचानक चारो तरफ पानी ही पानी हो गया। हालात बाढ़ जैसे हो गए।बादल फटने से लगभग 40 लोग लापता हो गए हैं।

By अनूप कुमार 
Updated Date

किश्तवाड़: जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के किश्तवाड़ (Kishtwar) में प्रकृति का रौद्र रूप देखने को मिला है। बादल फटने (cloudburst) से अचानक चारो तरफ पानी ही पानी हो गया। हालात बाढ़ जैसे हो गए।बादल फटने से लगभग 40 लोग लापता हो गए हैं। जबकि अब तक पांच लोगों के शव बरामद किए जा चुके हैं। जानकारी के मुताबिक, पांच से आठ घरों को और एक राशन डिपो को नुकसान पहुंचा है।

पढ़ें :- उत्तरी कश्मीर बारामूला जिले में Cloudburst, बक्करवाल समुदाय के पांच सदस्य बहे
Jai Ho India App Panchang

हादसे की सूचना मिलते ही SDRF और जम्मू-कश्मीर पुलिस की टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर राहत और बचाव  अभियान  शुरू कर दिया है। खबरों के अनुसार, रेस्क्यू ऑपरेशन (rescue) के लिए एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर्स से भी मदद ली जा रही है।पूरे क्षेत्र में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। राज्य में लगातार हो रही भारी बारिश के कारण काफी नुकसान हो चुका है। किश्तवाड़ के जिलाधिकारी अशोक कुमार शर्मा ने कहा कि बचाव अभियान के लिए सेना और पुलिस की एक टीम को इलाके में भेजा गया है।

किश्तवाड़ शहर जम्मू से लगभग 200 किमी दूर है, जबकि दच्छन किश्तवाड़ जिले में एक दूरस्थ और पहाड़ी क्षेत्र है।जम्मू क्षेत्र के अधिकांश हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश हो रही है. जुलाई के अंत तक और बारिश की भविष्यवाणी के साथ, किश्तवाड़ में अधिकारियों ने जलाशयों और लैंडस्लाइड प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा है।

 

पढ़ें :- Jammu Kashmir: स्वतंत्रता दिवस से पहले सुरक्षाबलों की बड़ी कामयाबी, हिजबुल मुजाहिदीन का एक आतंकी गिरफ्ताार
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...