LoC पार कर भारतीय सीमा में घुसा पाकिस्‍तानी हेलिकॉप्‍टर, फायरिंग के बाद लौटा

LoC पार कर भारतीय सीमा में घुसा पाकिस्‍तानी हेलिकॉप्‍टर, फायरिंग के बाद लौटा
LoC पार कर भारतीय सीमा में घुसा पाकिस्‍तानी हेलिकॉप्‍टर, फायरिंग के बाद लौटा

कश्मीर। सीमा पार से आतंकियों की सप्लाई करने वाले पाकिस्तान ने अब हवाई सीमा उल्लंघन करने की भी हिमाकत की है। दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर पाक सेना का हेलिकॉप्टर पुंछ में देखा गया। अफसरों के मुताबिक, पुंछ के गुलपुर सेक्टर में एक सफेद हेलिकॉप्टर देखा गया था, भारत की ओर से इस घटना का कड़ा जवाब दिया गया। सेना ने छोटे हथियारों से इस पर फायरिंग की। हालांकि यह थोड़ी देर में ही लौट गया।

Jammu Kashmir Loc Poonch Pakistan Chopper Violates Indian Airspace :

बताया जा रहा है कि रविवार को दोपहर करीब 12:30 बजे पुंछ के गुलपुर सेक्टर में यह हेलिकॉप्टर भारतीय सीमा में देखा गया। केवल इतना ही नहीं यह सीमा के कई मीटर अंदर तक दाखिल हो गया था। वीडियो में भारतीय सुरक्षाबलों की तरफ से चलाई गई गोलियों की भी आवाजें सुनी जा सकती हैं। घुसपैठ के लिहाज से इस क्षेत्र को संवेदनशील माना जाता है।

पाकिस्तान का हेलिकॉप्टर जितनी ऊंचाई पर उड़ रहा था उससे आशंका कजताई जा रही है कि यह इलाके की रेकी करने के मकसद से आया था। नियमों के अनुसार रोटर वाला कोई भी विमान नियंत्रण रेखा के एक किलोमीटर नजदीक नहीं आ सकता है। जबकि बिना रोटर वाला कोई भी विमान प्लेन सीमा के 10 किलोमीटर पास नहीं आ सकता है।

जानकारी के अनुसार, गुलपुर सेक्‍टर में पाकिस्‍तानी सेना का हेलिकॉप्‍टर भारतीय सीमा में दाखिल हुआ। यह ढलन सेक्‍टर की तरफ गया। इसके बाद भारतीय सेना ने नोल, सुसार और हाथी पॉजीशन से इस पर गोलीबारी की। माना जा रहा है कि यह हेलिकॉप्‍टर रेकी करने के लिए आया था। यह इलाका घुसपैठ के लिहाज से काफी संवेदनशील है।

बता दें कि 1991 में दोनों देशों के बीच समझौता हुआ था जिसके तहत रोटर वाले प्‍लेन सीमा के एक किलोमीटर के दायरे में नहीं आ सकते वहीं बिना रोटर वाले प्‍लेन 10 किलोमीटर की सीमा में दाखिल नहीं हो सकते। इस समझौते के तहत नियंत्रण रेखा का यह इलाका बफर जोन कहलाता है जिससे कि तनाव पैदा न हो।

कश्मीर। सीमा पार से आतंकियों की सप्लाई करने वाले पाकिस्तान ने अब हवाई सीमा उल्लंघन करने की भी हिमाकत की है। दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर पाक सेना का हेलिकॉप्टर पुंछ में देखा गया। अफसरों के मुताबिक, पुंछ के गुलपुर सेक्टर में एक सफेद हेलिकॉप्टर देखा गया था, भारत की ओर से इस घटना का कड़ा जवाब दिया गया। सेना ने छोटे हथियारों से इस पर फायरिंग की। हालांकि यह थोड़ी देर में ही लौट गया। बताया जा रहा है कि रविवार को दोपहर करीब 12:30 बजे पुंछ के गुलपुर सेक्टर में यह हेलिकॉप्टर भारतीय सीमा में देखा गया। केवल इतना ही नहीं यह सीमा के कई मीटर अंदर तक दाखिल हो गया था। वीडियो में भारतीय सुरक्षाबलों की तरफ से चलाई गई गोलियों की भी आवाजें सुनी जा सकती हैं। घुसपैठ के लिहाज से इस क्षेत्र को संवेदनशील माना जाता है। पाकिस्तान का हेलिकॉप्टर जितनी ऊंचाई पर उड़ रहा था उससे आशंका कजताई जा रही है कि यह इलाके की रेकी करने के मकसद से आया था। नियमों के अनुसार रोटर वाला कोई भी विमान नियंत्रण रेखा के एक किलोमीटर नजदीक नहीं आ सकता है। जबकि बिना रोटर वाला कोई भी विमान प्लेन सीमा के 10 किलोमीटर पास नहीं आ सकता है। जानकारी के अनुसार, गुलपुर सेक्‍टर में पाकिस्‍तानी सेना का हेलिकॉप्‍टर भारतीय सीमा में दाखिल हुआ। यह ढलन सेक्‍टर की तरफ गया। इसके बाद भारतीय सेना ने नोल, सुसार और हाथी पॉजीशन से इस पर गोलीबारी की। माना जा रहा है कि यह हेलिकॉप्‍टर रेकी करने के लिए आया था। यह इलाका घुसपैठ के लिहाज से काफी संवेदनशील है। बता दें कि 1991 में दोनों देशों के बीच समझौता हुआ था जिसके तहत रोटर वाले प्‍लेन सीमा के एक किलोमीटर के दायरे में नहीं आ सकते वहीं बिना रोटर वाले प्‍लेन 10 किलोमीटर की सीमा में दाखिल नहीं हो सकते। इस समझौते के तहत नियंत्रण रेखा का यह इलाका बफर जोन कहलाता है जिससे कि तनाव पैदा न हो।