1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. महबूबा ने कहा- 35A के साथ छेड़छाड़ करना बारूद को हाथ लगाने के बराबर होगा

महबूबा ने कहा- 35A के साथ छेड़छाड़ करना बारूद को हाथ लगाने के बराबर होगा

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर की पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) आज यानी रविवार को अपना 20वां स्थापना दिवस मना रही है। इस मौके पर पीडीपी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि 35ए के साथ छेड़छाड़ करना बारूद को हाथ लगाने के बराबर होगा। उन्होंने कहा, जो हाथ 35ए के साथ छेड़छाड़ करने के लिए उठेंगे, वो हाथ ही नहीं वो सारा जिस्म जल के राख हो जाएगा।

महबूबा ने यह बयान श्रीनगर में एक रैली के दौरान दिया। जानकारी के लिए बता दें कि मोदी सरकार ने कश्मीर घाटी में करीब 10 हजार अतिरिक्त जवानों को भेजने का आदेश दिया है। सरकार के इस फैसले से राज्य में हलचल काफी तेज हो गई है। महबूबा मुफ्ती समेत कई नेताओं ने केंद्र सरकार के इस फैसला पर नाराजगी जाहिर की है।

सरकार 35ए हटाने की तैयारी में: सूत्र

केंद्र सरकार में उच्च पदस्थ सूत्र ने दावा किया कि राज्य में विवादित अनुच्छेद 35ए हटाने की उल्टी गिनती शुरू हाे चुकी है। इसे हटाने के बाद के हालात से निपटने के लिए अतिरिक्त जवान भेजे जा रहे हैं। सूत्राें ने कहा कि अनुच्छेद-35ए हटाने के विरोध की अाड़ में राष्ट्र विरोधी तत्व हिंसा फैला सकते हैं। ऐसे लाेगाें की सूची भी तैयार है। इन्हें एहतियात के ताैर पर हिरासत में रखा जाएगा। इस सूची में अलगाववादियाें के साथ ही कुछ स्थानीय राजनेता भी शामिल हैं। अनुच्छेद हटाने के बाद बनने वाले हालात से निपटने के ऑपरेशन को नाम भी दिया जा चुका है।

सैन्य ताकत से कश्मीर का मुद्दा हल नहीं होगा: महबूबा

पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने सरकार के इस फैसले पर भी आपत्ति जताई थी। उन्होंने कहा कि कश्मीर की समस्या राजनीतिक है। यह मुद्दा सैन्य ताकत से नहीं सुलझाया जा सकता है। घाटी में 10 हजार अाैर जवान तैनात करने से लोगों के मन में भय पैदा हो रहा है। कश्मीर में सुरक्षाबलों की कमी नहीं है। सरकार को दोबारा सोचने और अपनी नीति बदलने की जरूरत है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...