एनकाउंटर में मारा गया जैश के इशारों पर काम करने वाला आतंकी अबु सैफुल्लाह

jamuu kashmir
एनकाउंटर में मारा गया जैश के इशारों पर काम करने वाला आतंकी अबु सैफुल्लाह

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस को घाटी में बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। दरअसल भारतीय सुरक्षाकर्मियों ने एनकाउंटर के दौरान पाकिस्तान के आतंकी अबु सैफुल्लाह को मार गिराया है। पुलवामा के अवंतीपोरा इलाके में हुआ यह एनकाउंटर 21 जनवरी को हुआ था। वहीं अब जाबकर पुलिस ने इस मुठभेड़ में मारे गए आतंकी की पहचान सैफुल्लाह के तौर पर कर ली है। सुरक्षाकर्मियों की माने तो उनके मुताबिक सैफुल्लाह की उन्हें लंबे समय से तलाश थी।

Jammu Kashmir Police Killed Pakistani Terrorist Abu Saifullaha Of Jaishe Mohammad :

सैफुल्लाह की पहचान

सैफुल्लाह पाकिस्तान का रहने वाला है, वो पिछले डेढ़ साल से अवंतीपोरा के त्राल इलाके में सक्रिय था। बीते कुछ समय से जम्मू-कश्मीर पुलिस को कई केस में उसकी तलाश थी। सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक जैश-ए- मोहम्मद का आतंकी कादिर यासिर का वो बेहद करीबी था। हालांकि एनकाउंटर के दौरान सैफुल्लाह के साथ कई और आतंकी था, लेकिन वो रात के अंधरे का फायदा उठा कर भागने में कामयाब रहे।

बताया जा रहा है कि मंगलवार को आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में सेना का एक जवान और एक विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) शहीद हो गए।वहीं इस पूरे मामले में एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि क्षेत्र में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में सूचना मिलने के बाद खरियू में एक तलाशी अभियान चलाया गया था। इस ऑपरेशन के दौरान आतंकवादियों ने गोलीबारी की तभी सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। अधिकारी ने आगे बताया कि मुठभेड़ में विशेष पुलिस अधिकारी शाहबाज अहमद मौके पर ही शहीद हो गये और सेना का एक जवान घायल हो गया हालांकि बाद में जवान भी शहीद हो गया।

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस को घाटी में बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। दरअसल भारतीय सुरक्षाकर्मियों ने एनकाउंटर के दौरान पाकिस्तान के आतंकी अबु सैफुल्लाह को मार गिराया है। पुलवामा के अवंतीपोरा इलाके में हुआ यह एनकाउंटर 21 जनवरी को हुआ था। वहीं अब जाबकर पुलिस ने इस मुठभेड़ में मारे गए आतंकी की पहचान सैफुल्लाह के तौर पर कर ली है। सुरक्षाकर्मियों की माने तो उनके मुताबिक सैफुल्लाह की उन्हें लंबे समय से तलाश थी। सैफुल्लाह की पहचान सैफुल्लाह पाकिस्तान का रहने वाला है, वो पिछले डेढ़ साल से अवंतीपोरा के त्राल इलाके में सक्रिय था। बीते कुछ समय से जम्मू-कश्मीर पुलिस को कई केस में उसकी तलाश थी। सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक जैश-ए- मोहम्मद का आतंकी कादिर यासिर का वो बेहद करीबी था। हालांकि एनकाउंटर के दौरान सैफुल्लाह के साथ कई और आतंकी था, लेकिन वो रात के अंधरे का फायदा उठा कर भागने में कामयाब रहे। बताया जा रहा है कि मंगलवार को आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में सेना का एक जवान और एक विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) शहीद हो गए।वहीं इस पूरे मामले में एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि क्षेत्र में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में सूचना मिलने के बाद खरियू में एक तलाशी अभियान चलाया गया था। इस ऑपरेशन के दौरान आतंकवादियों ने गोलीबारी की तभी सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। अधिकारी ने आगे बताया कि मुठभेड़ में विशेष पुलिस अधिकारी शाहबाज अहमद मौके पर ही शहीद हो गये और सेना का एक जवान घायल हो गया हालांकि बाद में जवान भी शहीद हो गया।