पुलवामा में टला बड़ा आतंकी हमला, सेना ने बरामद की कार में रखी IED

पुलवामा में टला बड़ा आतंकी हमला, सेना ने बरामद की कार में रखी IED
पुलवामा में टला बड़ा आतंकी हमला, सेना ने बरामद की कार में रखी IED

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में गुरुवार को पुलवामा जैसा बड़ा आतंकी हमला टला। दरअसल, पुलवामा के पास एक सैंट्रो गाड़ी में IED (इंप्रोवाइज्ड एक्स्प्लोसिव डिवाइस) प्लांट की गई थी, जिसकी समय रहते पहचान कर ली गई और बम डिस्पोज़ल स्क्वायड ने समय रहते ही इस बम को डिफ्यूज़ कर दिया। इसके बाद अब इस मामले की जांच एनआईए करेगी।

Jammu Kashmir Pulwama Vehicle Borne Ied Blast Averted Army Police :

बताया जा रहा है कि पुलवामा पुलिस, सीआरपीएफ और आर्मी ने एक साथ एक्शन लेते हुए इस गाड़ी की पहचान की और इसमें IED के होने का पता लगाया। हालांकि जानकारी मिलते ही बम डिस्पोज़ल स्क्वायड को बुलाया गया और अंतत: इस IED को ब्लास्ट होने से पहले ही डिफ्यूज़ कर दिया गया।

मिली जानकारी के मुताबिक गाड़ी को एक आतंकी चला रहा था, जो कि शुरुआती गोलीबारी के बाद ही भाग गया। अंधेरे में आतंकी भाग खड़ा हुआ, इस गाड़ी को पुलवामा के रजपुरा रोड के पास शादीपुरा में पकड़ा गया। सफेद रंग की सैंट्रो कार में टू व्हीलर की नंबर प्लेट लगाई गई थी, जो कि कठुआ की रजिस्टर्ड थी। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इसे ट्रैक किया, जिसके बाद बम की तलाश की गई बम डिस्पोज़ल यूनिट को बुलाने से पहले आसपास के इलाके को खाली कराया गया।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में गुरुवार को पुलवामा जैसा बड़ा आतंकी हमला टला। दरअसल, पुलवामा के पास एक सैंट्रो गाड़ी में IED (इंप्रोवाइज्ड एक्स्प्लोसिव डिवाइस) प्लांट की गई थी, जिसकी समय रहते पहचान कर ली गई और बम डिस्पोज़ल स्क्वायड ने समय रहते ही इस बम को डिफ्यूज़ कर दिया। इसके बाद अब इस मामले की जांच एनआईए करेगी। बताया जा रहा है कि पुलवामा पुलिस, सीआरपीएफ और आर्मी ने एक साथ एक्शन लेते हुए इस गाड़ी की पहचान की और इसमें IED के होने का पता लगाया। हालांकि जानकारी मिलते ही बम डिस्पोज़ल स्क्वायड को बुलाया गया और अंतत: इस IED को ब्लास्ट होने से पहले ही डिफ्यूज़ कर दिया गया। मिली जानकारी के मुताबिक गाड़ी को एक आतंकी चला रहा था, जो कि शुरुआती गोलीबारी के बाद ही भाग गया। अंधेरे में आतंकी भाग खड़ा हुआ, इस गाड़ी को पुलवामा के रजपुरा रोड के पास शादीपुरा में पकड़ा गया। सफेद रंग की सैंट्रो कार में टू व्हीलर की नंबर प्लेट लगाई गई थी, जो कि कठुआ की रजिस्टर्ड थी। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इसे ट्रैक किया, जिसके बाद बम की तलाश की गई बम डिस्पोज़ल यूनिट को बुलाने से पहले आसपास के इलाके को खाली कराया गया।