जम्मू-कश्मीर: शोपियां में बड़ा आतंकी हमला, पुलिस के 4 जवान शहीद

जम्मू-कश्मीर: शोपियां में बड़ा आतंकी हमला, पुलिस के 4 जवान शहीद
जम्मू-कश्मीर: शोपियां में बड़ा आतंकी हमला, पुलिस के 4 जवान शहीद

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के शोपियां में जिले के अरहामा गांव में बुधवार को पुलिस टीम पर आतंकियों ने हमला कर दिया। इस हमले में 4 पुलिसकर्मी शहीद हो गए। ये पुलिसकर्मी डीएसपी हेडक्वार्टर शोपियां के एस्कॉर्ट पार्टी में शामिल थे। हमले के बाद आतंकवादी अपने साथ तीन एके47 भी छीनकर भाग गए। हमले की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है और आतंकियों की तलाश तेज कर दी गई है।

Jammu Kashmir Shopian Terrorist Attack Policeman :

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने हमले की पुष्टि करते हुए बताया कि, आतंकियों ने एस्कॉर्ट पार्टी पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। हमले में चार जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां सभी जवानों को मृत घोषित कर दिया गया। एस्कॉर्ट पार्टी इस इलाके में पुलिस वाहन की मरम्मत के लिए गई थी। हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद और हिजबुल मुजाहिद्दीन ने ली है।

इससे पहले, सुरक्षाबलों ने अनंतनाग में हिज्बुल के दो शीर्ष आतंकियों को मार गिराया था। मारे गए आतंकियों की पहचान शीर्ष हिज्बुल कमांडर अल्ताफ अहमद डार उर्फ अल्ताफ कचरू व उसके सहयोगी उमर राशिद के रूप में हुई। अल्ताफ अहमद डार उर्फ कचरू बुरहान वानी का करीबी भी था। हिज्बुल मुजाहिद्दीन का ये आतंकी कुलगाम में डिस्ट्रिक्ट कमांडर के रूप में कई वर्षों से सुरक्षा बलों को निशाना बना रहा था। कचरू घाटी में बरहान की जगह लेना चाहता था।

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के शोपियां में जिले के अरहामा गांव में बुधवार को पुलिस टीम पर आतंकियों ने हमला कर दिया। इस हमले में 4 पुलिसकर्मी शहीद हो गए। ये पुलिसकर्मी डीएसपी हेडक्वार्टर शोपियां के एस्कॉर्ट पार्टी में शामिल थे। हमले के बाद आतंकवादी अपने साथ तीन एके47 भी छीनकर भाग गए। हमले की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है और आतंकियों की तलाश तेज कर दी गई है।जम्मू-कश्मीर पुलिस ने हमले की पुष्टि करते हुए बताया कि, आतंकियों ने एस्कॉर्ट पार्टी पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। हमले में चार जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां सभी जवानों को मृत घोषित कर दिया गया। एस्कॉर्ट पार्टी इस इलाके में पुलिस वाहन की मरम्मत के लिए गई थी। हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद और हिजबुल मुजाहिद्दीन ने ली है।इससे पहले, सुरक्षाबलों ने अनंतनाग में हिज्बुल के दो शीर्ष आतंकियों को मार गिराया था। मारे गए आतंकियों की पहचान शीर्ष हिज्बुल कमांडर अल्ताफ अहमद डार उर्फ अल्ताफ कचरू व उसके सहयोगी उमर राशिद के रूप में हुई। अल्ताफ अहमद डार उर्फ कचरू बुरहान वानी का करीबी भी था। हिज्बुल मुजाहिद्दीन का ये आतंकी कुलगाम में डिस्ट्रिक्ट कमांडर के रूप में कई वर्षों से सुरक्षा बलों को निशाना बना रहा था। कचरू घाटी में बरहान की जगह लेना चाहता था।