कोरोना का कह​र: कोविड-19 पर लगाम लगाने के लिए जापान ने लगाया आपातकाल

Prime Minister Shinzo Abe
कोरोना का कह​र: कोविड-19 पर लगाम लगाने के लिए जापान ने लगाया आपातकाल

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के कहर से जूझ रहे जापान में आपातकाल लगा दिया गया है। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कोविड-19 पर लगाम लगाने के लिए टोक्यो, ओसाका और पांच अन्य परफेक्चरों में आज मंगलवार को आपातकाल घोषित कर दिया। यह घोषणा कल बुधवार से प्रभावी होगी। आपातकाल के दायरे में राजधानी टोक्यो और अन्य प्रमुख प्रांत होंगे, जिसमें कनागावा, सैतामा, चिबा, ओसाका, ह्योगो और फुकुओका शामिल हैं।

Japan Imposed Emergency To Curb Kovid 19 :

आपातकाल की घोषणा से पहले प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कहा कि ऐसे हालात बन रहे हैं जो लोगों के जीवन और अर्थव्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित कर रहे हैं। आज शाम, मेरी सरकार के मुख्यालय में बैठक बुलाने की और आपातकाल घोषित करने की योजना है।

उन्होंने खासतौर पर तोक्यो और ओसाका जैसे शहरी इलाकों में संक्रमण के नए मामले तेजी से बढ़ने का हवाला देते हुए एक दिन पहले ही योजना की घोषणा कर दी थी। घोषणा आधी रात से प्रभावी होगी और यह सात प्रभावित क्षेत्रों के गर्वनरों को लोगों से घरों में रहने तथा उद्यमों से संस्थान बंद करने का अधिकार देगी।

इस घोषणा से परफेक्चर के गवर्नरों को वायरस का प्रसार रोकने के लिए कदम उठाने का अधिक अधिकार मिल जाएगा। आपातकाल की यह घोषणा ऐसे समय में की गई है, जब जापान में कोरोना वायरस मामलों की संख्या 4845 हो गई है, और अब तक 108 लोगों की मौतें हो चुकी हैं।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के कहर से जूझ रहे जापान में आपातकाल लगा दिया गया है। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कोविड-19 पर लगाम लगाने के लिए टोक्यो, ओसाका और पांच अन्य परफेक्चरों में आज मंगलवार को आपातकाल घोषित कर दिया। यह घोषणा कल बुधवार से प्रभावी होगी। आपातकाल के दायरे में राजधानी टोक्यो और अन्य प्रमुख प्रांत होंगे, जिसमें कनागावा, सैतामा, चिबा, ओसाका, ह्योगो और फुकुओका शामिल हैं। आपातकाल की घोषणा से पहले प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कहा कि ऐसे हालात बन रहे हैं जो लोगों के जीवन और अर्थव्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित कर रहे हैं। आज शाम, मेरी सरकार के मुख्यालय में बैठक बुलाने की और आपातकाल घोषित करने की योजना है। उन्होंने खासतौर पर तोक्यो और ओसाका जैसे शहरी इलाकों में संक्रमण के नए मामले तेजी से बढ़ने का हवाला देते हुए एक दिन पहले ही योजना की घोषणा कर दी थी। घोषणा आधी रात से प्रभावी होगी और यह सात प्रभावित क्षेत्रों के गर्वनरों को लोगों से घरों में रहने तथा उद्यमों से संस्थान बंद करने का अधिकार देगी। इस घोषणा से परफेक्चर के गवर्नरों को वायरस का प्रसार रोकने के लिए कदम उठाने का अधिक अधिकार मिल जाएगा। आपातकाल की यह घोषणा ऐसे समय में की गई है, जब जापान में कोरोना वायरस मामलों की संख्या 4845 हो गई है, और अब तक 108 लोगों की मौतें हो चुकी हैं।