ओडिशा में जापानी एंसेफलाइटिस से 3 और मरे, अब तक 48 की मौत

भुवनेश्वर: ओडिशा के मलकानगिरी जिले में बुधवार को जपानी एंसेफलाइटिस वायरस से तीन और बच्चों की मौत हो गई, जिससे इस बीमारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 48 हो गई है। मुख्य जिला चिकित्सा अधिकारी यू.एस. मिश्रा ने कहा कि तीन बच्चों को जिला अस्पताल के सघन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में भर्ती किया गया था जिनकी मौत हो गई।


(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

जिला अधिकारी सुदर्शन चक्रवर्ती ने कहा कि अस्पताल में करीब 61 मरीजों का इलाज चल रहा है जिनमें पांच आईसीयू में भर्ती हैं। इलाज के बाद 15 बच्चों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। इस बीच जापानी एंसेफलाइटिस से निपटने में कथित कोताही बरतने के आरोप में जिला अधिकारी ने 22 नोडल अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

प्रभावित गांवों में मच्छरदानी वितरण की निगरानी का दायित्व 64 नोडल अधिकारियों को सौंपा गया था और जिला अधिकारी को रपट प्रस्तुत करने को कहा गया था। 22 नोडल अधिकारी तय समय सीमा के तहत रपट प्रस्तुत करने में विफल रहे।

पड़ोस के जिलों में वायरस के फैलने के बाद राज्य की स्वास्थ्य सचिव आरती आहुजा ने बुधवार को कोरापुट जिले का दौरा कर स्थिति जायजा लिया। आहुजा ने कहा, “बीमारी की रोकथाम के लिए विभाग हर संभव कदम उठा रहा है।” इस मुद्दे पर अधिकारियों से चर्चा करने के लिए वह मलकानगिरी जिले का भी दौरा करेंगी।

मलकानगिरी के जिला अधिकारी ने कहा कि प्रभावित इलाकों में 1200 से अधिक मच्छरदानी बांटी गई हैं, जबकि फॉगिंग और मच्छर भगाने वाली दवा के छिड़काव के काम तेज कर दिए गए हैं।


(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});