जौनपुर: दलितों का घर जलाने पर सीएम योगी सख्त, आरोपियों पर NSA लगाने के आदेश

cm yogi
सीएम योगी ने अंतर्जनपदीय तबादले पर लगी रोक हटाई, 45 हजार शिक्षकों को मिलेगा लाभ

लखनऊ। जौनपुर में दलितों के घर जलाए जाने को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सख्त हो गए हैं। उन्होंने आरोपियों पर सख्त कार्रवाई करने और उनके खिलाफ एनएसए लगाने के आदेश दिए हैं। आरोपियों के नाम नूर आलम और जावेद सिद्दीकी है।

Jaunpur Cm Yogi Strict On Burning House Of Dalits Order To Impose Nsa On Accused :

इसके साथ ही सीएम ने थाना प्रभारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई और पीड़ित दलितों को तत्काल आवास देने का निर्देश जारी किया गया है। बता दें कि, यूपी के जौनपुर में मंगलवार शाम बकरी और भैंस चराने को लेकर बच्चों के बीच विवाद हो गया था। विवाद बढ़ते ही दोनों पक्षों में जमकर मारपीट और हिंसक घटनाएं हुईं। इस दौरान दलितों के आधा दर्जन छप्पर में आग लगा दी गई।

दोनों पक्षों के काफी संख्या में लोग लाठी-डंडे से लैस होकर बाहर आ गए और जमकर मारपीट हुई। इस घटना में करीब 10 लोगों को चोटें आई। सूचना मिलते ही काफी संख्या में पुलिस फोर्स और दमकल की गाड़ियां घटनास्थल पर पहुंच कर आग पर और घटना पर काबू पाया गया। थोड़ी देर में जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक भी पूरे अमले के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर पीड़ितों से बात की।

इस मामले में पुलिस और प्रशासन ने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है। वहीं, अब सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुख्य आरोपियों के खिलाफ एनएसए लगाने और स्थानीय थाना प्रभारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। साथ ही पीड़ित दलितों को तत्काल आवास और सरकारी सुविधाओं का लाभ देने का आदेश जारी किया गया है।

लखनऊ। जौनपुर में दलितों के घर जलाए जाने को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सख्त हो गए हैं। उन्होंने आरोपियों पर सख्त कार्रवाई करने और उनके खिलाफ एनएसए लगाने के आदेश दिए हैं। आरोपियों के नाम नूर आलम और जावेद सिद्दीकी है। इसके साथ ही सीएम ने थाना प्रभारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई और पीड़ित दलितों को तत्काल आवास देने का निर्देश जारी किया गया है। बता दें कि, यूपी के जौनपुर में मंगलवार शाम बकरी और भैंस चराने को लेकर बच्चों के बीच विवाद हो गया था। विवाद बढ़ते ही दोनों पक्षों में जमकर मारपीट और हिंसक घटनाएं हुईं। इस दौरान दलितों के आधा दर्जन छप्पर में आग लगा दी गई। दोनों पक्षों के काफी संख्या में लोग लाठी-डंडे से लैस होकर बाहर आ गए और जमकर मारपीट हुई। इस घटना में करीब 10 लोगों को चोटें आई। सूचना मिलते ही काफी संख्या में पुलिस फोर्स और दमकल की गाड़ियां घटनास्थल पर पहुंच कर आग पर और घटना पर काबू पाया गया। थोड़ी देर में जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक भी पूरे अमले के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर पीड़ितों से बात की। इस मामले में पुलिस और प्रशासन ने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है। वहीं, अब सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुख्य आरोपियों के खिलाफ एनएसए लगाने और स्थानीय थाना प्रभारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। साथ ही पीड़ित दलितों को तत्काल आवास और सरकारी सुविधाओं का लाभ देने का आदेश जारी किया गया है।