‘जय श्री राम’ का नारा लगाने वाले मुस्लिम जेडीयू मंत्री के खिलाफ फतवा जारी

JDU

Jay Shriram Ka Nara Lagane Wale Muslim Jdu Mantri Ke Khilaf Fatawa Jari

पटना। बिहार में सियासी उठा पटक के बाद नीतीश कुमार विधानसभा में विश्वासमत हासिल कर एक बार फिर सत्ता पर काबिज होने में कामयाब रहें। विश्वास मत हासिल करते ही विधानसभा में एक जेडीयू मुस्लिम नेता ने ‘जय श्री राम’ का नारा लगा खूब सुर्खियां बटोरी, लेकिन अब यह मुस्लिम नेता मुश्किलों में फसता नज़र आ रहा है। इनके खिलाफ एक फतवा जारी किया गया है।

दरअसल बिहार सरकार के मंत्री खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद ने विधानसभा में जय श्रीराम का नारा दिया था जिसवजह से अब उनके खिलाफ इमारत-ए-शरिया के काजी ने फतवा जारी किया है। पहले खबरें आयी की ये फतवा इमारत-ए-शरिया ने जारी किया है लेकिन बाद में इस फतवे को शरिया ने खुद से अलग करते हुए कहा कि ये फतवा वहां के काजी मुफ्ती सुहैल अहमद कासमी ने जारी किया है।

काजी ने फतवा जारी करते हुए मंत्री खुर्शीद को इस्लाम से खारिज और मुर्तद (विश्वास नहीं करने वाला) करार दिया है. मुफ्ती के मुताबिक जो शख्स जय श्री राम का नारा लगाये और कहे कि मैं रहीम के साथ-साथ राम की भी पूजा करता हूं और मैं हिन्दुस्तान के सभी धार्मिक स्थानों पर मत्था टेकता हूं। ऐसा शख्स इस्लाम से खारिज और मुर्तद है।

जदयू कोटे से मंत्री बने खुर्शीद ने इस फतवे के जवाब में कहा कि अगर बिहार के विकास और सामाजिक सौहार्द के लिये मुझे जय श्री राम के नारे लगाने पड़े तो मैं कभी इससे पीछे नहीं हटूंगा। खुर्शीद ने बिहार विधानसभा पोर्टिको के साथ-साथ मीडिया के कैमरे के सामने भी जय श्रीराम के नारे लगाए थे। बताते चलें कि नीतीश की नई कैबिनेट में खुर्शीद को अल्पसंख्यक मंत्रालय की जिम्मेदारी मिली है।

पटना। बिहार में सियासी उठा पटक के बाद नीतीश कुमार विधानसभा में विश्वासमत हासिल कर एक बार फिर सत्ता पर काबिज होने में कामयाब रहें। विश्वास मत हासिल करते ही विधानसभा में एक जेडीयू मुस्लिम नेता ने 'जय श्री राम' का नारा लगा खूब सुर्खियां बटोरी, लेकिन अब यह मुस्लिम नेता मुश्किलों में फसता नज़र आ रहा है। इनके खिलाफ एक फतवा जारी किया गया है। दरअसल बिहार सरकार के मंत्री खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद ने विधानसभा में जय श्रीराम…