कोर्ट कस्टडी में है जयललिता की 10500 साड़ियां व 750 सैंडल

बेंगलुरु| तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के निधन के बाद उन पर चल रहा आय से अधिक संपत्ति का केस भी खत्म हो गया है लेकिन उनकी संपत्ति आज भी कोर्ट की कस्टडी में हैं| कोर्ट कस्टडी में उनकी 10,500 साड़ियां, 750 सैंडल और 500 वाइन के ग्लास हैं| अब सवाल यह उठता है कि जयललिता के निधन के बाद इन सामानों का क्या होगा|




एआईएडीएमके के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कहा कि हम चाहते हैं कि जयललिता से जुड़ी इन सभी चीजों को वापस कर दिया जाए, ताकि पार्टी जयललिता की चीजों को उनकी याद में बनाए जा रहे म्यूजियम में संभाल के रखा जा सके| इसको लेकर एआईएडीएमके के नेताओं को उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट जल्द ही इस फैसले पर सुनवाई करेगा|

उन्होंने उम्मीद जताई है कि इस मामले पर फैसला जून 2017 तक आ जाएगा| वहीं पूर्व मुख्यमंत्री की मौत के बाद तमिलनाडु सरकार ने फैसला किया है कि वह फैसले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में ज्ञापन भी देगी जिससे मामले की सुनवाई जल्दी हो सके|

गौरतलब हो कि आयकर विभाग ने साल 1996 में जयललिता की जो संपत्ति जब्त की थी उसे बेंगलुरू के सिटी सिविल कोर्ट कॉम्प्लेक्स के फर्स्ट फ्लोर पर स्थित कमरे में रखा गया है| यहां 24 घंटे चार जवान इसकी सुरक्षा में तैनात रहते हैं|