जया प्रदा ने थामा BJP का दामन, रामपुर में आजम खां को देंगी चुनौती

jaya parda

लखनऊ। फिल्म अभिनेत्री जयाप्रदा भाजपा में शामिल हो गई हैं।  कहा जा रहा है कि बॉलीवुड अभिनेत्री समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता और उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मंत्री आजम खान के खिलाफ रामपुर लोकसभा सीट से चुनावी मैदान में उतर सकती हैं। जया प्रदा के बीजेपी में आने से पार्टी की शक्ति बढ़ी है। उनकी फिल्मी सितारे वाली छवि को पार्टी चुनाव में भुना सकती है।

Jayaprada Joins Bjp Will Contest From Rampur :

बता दें कि जया प्रदा समाजवादी पार्टी के टिकट पर दो बार रामपुर से सांसद रही हैं। बाद में अमर सिंह और आजम खान के रिश्तों में आई कड़वाहट के बाद वे 2014 में आरएलडी के टिकट पर बिजनौर से चुनाव लड़ी और उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

मालूम हो कि 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के नेपाल सिंह ने रामपुर से आजम खान के प्रत्याशी नसीर खान को महज कुछ हजार वोटों से हराया था। कहा जा रहा है कि इस बार नेपाल सिंह का टिकट कटना तय है।

अमर सिंह ने RSS से जुड़े संगठन को दान की थी संपत्ति

बता दें कि हाल ही में अमर सिंह ने आजमगढ़ के तरवां गांव में मौजूद उनका पारिवारिक बंगला और 10 बीघा खेत आरएसएस से जुड़े संगठन के नाम कर दी थी। उपनिबंधक लालगंज आजमगढ़ सुनील कुमार के मुताबिक, अमर सिंह की जायदाद की सरकारी कीमत 2 करोड़ 91 लाख 55 हजार रुपये आंकी गई।

एक-दूसरे पर बयानों से वार

उधर, आजम खान और जया प्रदा के बीच तकरार की खबरें अक्सर आती रही हैं। वर्ष 2018 में आजम खान ने कहा था, ‘मैं इन दिनों शिक्षा के क्षेत्र में व्यस्त हूं। मेरे पास इस तरह के लोगों की बातों का जवाब देने का वक्त नहीं है। मेरा फोकस छात्रों की पढ़ाई में है। मैं नाचने-गाने वालों के मुंह नहीं लगूंगा। यदि मैं ऐसा करूंगा तो फिर सियासत नहीं कर पाऊंगा।’

दरअसल, आजम खान का यह विवादित बयान जया प्रदा की एक टिप्पणी पर था। जया प्रदा ने एक बयान में कहा था कि ‘पद्मावत’ फिल्म के अलाउद्दीन खिलजी को देखकर उन्हें आजम खान याद आ गए थे। जब वह चुनाव लड़ रही थीं तब आजम खान ने उन्हें भी बहुत प्रताड़ित किया था।  

जया प्रदा ने थामा BJP का दामन,  jayaprada-joins-bjp-will-contest-from-rampur

लखनऊ। फिल्म अभिनेत्री जयाप्रदा भाजपा में शामिल हो गई हैं।  कहा जा रहा है कि बॉलीवुड अभिनेत्री समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता और उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मंत्री आजम खान के खिलाफ रामपुर लोकसभा सीट से चुनावी मैदान में उतर सकती हैं। जया प्रदा के बीजेपी में आने से पार्टी की शक्ति बढ़ी है। उनकी फिल्मी सितारे वाली छवि को पार्टी चुनाव में भुना सकती है।

बता दें कि जया प्रदा समाजवादी पार्टी के टिकट पर दो बार रामपुर से सांसद रही हैं। बाद में अमर सिंह और आजम खान के रिश्तों में आई कड़वाहट के बाद वे 2014 में आरएलडी के टिकट पर बिजनौर से चुनाव लड़ी और उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

मालूम हो कि 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के नेपाल सिंह ने रामपुर से आजम खान के प्रत्याशी नसीर खान को महज कुछ हजार वोटों से हराया था। कहा जा रहा है कि इस बार नेपाल सिंह का टिकट कटना तय है।

अमर सिंह ने RSS से जुड़े संगठन को दान की थी संपत्ति

बता दें कि हाल ही में अमर सिंह ने आजमगढ़ के तरवां गांव में मौजूद उनका पारिवारिक बंगला और 10 बीघा खेत आरएसएस से जुड़े संगठन के नाम कर दी थी। उपनिबंधक लालगंज आजमगढ़ सुनील कुमार के मुताबिक, अमर सिंह की जायदाद की सरकारी कीमत 2 करोड़ 91 लाख 55 हजार रुपये आंकी गई।

एक-दूसरे पर बयानों से वार

उधर, आजम खान और जया प्रदा के बीच तकरार की खबरें अक्सर आती रही हैं। वर्ष 2018 में आजम खान ने कहा था, 'मैं इन दिनों शिक्षा के क्षेत्र में व्यस्त हूं। मेरे पास इस तरह के लोगों की बातों का जवाब देने का वक्त नहीं है। मेरा फोकस छात्रों की पढ़ाई में है। मैं नाचने-गाने वालों के मुंह नहीं लगूंगा। यदि मैं ऐसा करूंगा तो फिर सियासत नहीं कर पाऊंगा।'

दरअसल, आजम खान का यह विवादित बयान जया प्रदा की एक टिप्पणी पर था। जया प्रदा ने एक बयान में कहा था कि 'पद्मावत' फिल्म के अलाउद्दीन खिलजी को देखकर उन्हें आजम खान याद आ गए थे। जब वह चुनाव लड़ रही थीं तब आजम खान ने उन्हें भी बहुत प्रताड़ित किया था।  

जया प्रदा ने थामा BJP का दामन,  jayaprada-joins-bjp-will-contest-from-rampur