बिहार विधानसभा चुनाव से पहले शुरू हुई बयानबाजी, जेडीयू नेता ने चिराग पासवान को बताया कालिदास

lalm singh
बिहार विधानसभा चुनाव से पहले शुरू हुई बयानबाजी, जेडीयू नेता ने चिराग पासवान को बताया कालिदास

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव से पहले वहां पर बयानबाजी तेज हो गयी है। चुनाव आयोग ने भी साफ कर दिया है कि बिहार चुनाव अपने तय समय पर होंगे। इसको देखते हुए बिहार की राजनीति गरमा गयी है। साथ ही अब इसको लेकर बयानबाजी भी तेज हो गयी है। एनडीए के दो सहयोगी दलों के बीच वाक् युद्ध शुरू हो गया है।

Jdu Leader Told Chirag Paswan Kalidas Started Before Bihar Assembly Elections :

एनडीए के सहयोगी दल जेडीयू और लोजपा के बीच वाक् युद्ध छिड़ गया है। लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान की ओर से लगातार सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोला जा रहा है। वहीं, इसको लेकर जेडीयू नेता ललन​ सिंह ने भी चिराग पासवान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

ललन सिंह ने बुधवार को चिराग पर हमला बोलते हुए कहा कि “चिराग पासवान कालिदास हैं, जिस डाल पर बैठते है उसी को काटते हैं।” ललन ने कहा कि जमीनी स्तर की हकीकत कुछ और है लेकिन उनकी समझ कुछ और है। सरकार की खामियों को उजागर करने के संबंध में उन्होंने कहा कि “अच्छी बात है, अगर विपक्ष की भूमिका निभा रहे हैं।

कहावत है ना निंदक नियरे राखिए, आंगन कुटी छबाई। तो निंदक जितनी नजदीक रहे बेहतर है। नीतीश कुमार जी उनपर ध्यान नहीं देते  हैं, वो केवल अपना काम करते हैं।” उन्होंने कहा, ” चिराग पासवान ने क्या सवाल खड़ा किया ये वो जानें। जहां तक कोरोना का सवाल है नीतीश कुमार इस मामले में बहुत ही संवेदनशील हैं। आज की तारीख में बिहार में प्रतिदिन 83,000 टेस्ट हो रहा है। इसे अगले तीन दिनों में  एक लाख करने का लक्ष्य है।

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव से पहले वहां पर बयानबाजी तेज हो गयी है। चुनाव आयोग ने भी साफ कर दिया है कि बिहार चुनाव अपने तय समय पर होंगे। इसको देखते हुए बिहार की राजनीति गरमा गयी है। साथ ही अब इसको लेकर बयानबाजी भी तेज हो गयी है। एनडीए के दो सहयोगी दलों के बीच वाक् युद्ध शुरू हो गया है। एनडीए के सहयोगी दल जेडीयू और लोजपा के बीच वाक् युद्ध छिड़ गया है। लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान की ओर से लगातार सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोला जा रहा है। वहीं, इसको लेकर जेडीयू नेता ललन​ सिंह ने भी चिराग पासवान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। ललन सिंह ने बुधवार को चिराग पर हमला बोलते हुए कहा कि "चिराग पासवान कालिदास हैं, जिस डाल पर बैठते है उसी को काटते हैं।" ललन ने कहा कि जमीनी स्तर की हकीकत कुछ और है लेकिन उनकी समझ कुछ और है। सरकार की खामियों को उजागर करने के संबंध में उन्होंने कहा कि "अच्छी बात है, अगर विपक्ष की भूमिका निभा रहे हैं। कहावत है ना निंदक नियरे राखिए, आंगन कुटी छबाई। तो निंदक जितनी नजदीक रहे बेहतर है। नीतीश कुमार जी उनपर ध्यान नहीं देते  हैं, वो केवल अपना काम करते हैं।" उन्होंने कहा, " चिराग पासवान ने क्या सवाल खड़ा किया ये वो जानें। जहां तक कोरोना का सवाल है नीतीश कुमार इस मामले में बहुत ही संवेदनशील हैं। आज की तारीख में बिहार में प्रतिदिन 83,000 टेस्ट हो रहा है। इसे अगले तीन दिनों में  एक लाख करने का लक्ष्य है।