प्रियंका गांधी की टीम से जुड़ा एक विवादित चेहरा, पेपर लीक मामले का है आरोपी

priyanka-gandhi-kumar-ashish
प्रियंका गांधी की टीम से जुड़ा एक विवादित चेहरा, पेपर लीक मामले का है आरोपी

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की कमान कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को मिलने के बाद कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर है। इसके लिए अब पार्टी ने यूपी में प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया के सहयोग के लिए तीन-तीन सचिव नियुक्त किए हैं। प्रियंका के सचिव के रूप मे जुबैर खान, कुमार आशीष और बाजीराव खाडे को जिम्मेदारी दी गयी है। हालांकि इन तीन नामों में एक नाम विवादों में आ गया है।

Jdu Raised Questions On Kumar Ashish Attached With Priyanka Gandhi :

प्रियंका गांधी के सहयोग के लिए तीन लोगों में कुमार आशीष का नाम भी शामिल है। कुमार आशीष बिहार के रहने वाले हैं और वो यूथ कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं। उन्हे प्रियंका का सचिव बनाए जाने के बाद बिहार में जेडीयू हमलावर हो गई है। दरअसल करीब 14 साल पुराने पेपर लीक मामले में उनकी गिरफ्तारी की खबरें सामने आईं थीं।

जेडीयू नेता अशोक चौधरी का कहना है कि कैसे लोगों को राष्ट्रीय सचिव बनाया जा रहा है। कुमार आशीष अपराधी प्रवृति का रहा है और कई बार जेल जा चुका है। ऐसे दागियों को प्रियंका के साथ लाया जा रहा है।

बिहार यूथ कांग्रेस के उपाध्यक्ष रहे कुमार आशीष को 2005 में इंटरमीडिएट परीक्षा का पेपर कथित तौर पर लीक करने का आरोपी बनाया गया था, जिसके चलते कांग्रेस ने उन्हें निष्कासित कर दिया था। पिछले बिहार विधानसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर बांकीपुर सीट से चुनाव भी लड़ा था लेकिन बीजेपी उम्मीदवार ने उन्हें हरा दिया था।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की कमान कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को मिलने के बाद कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर है। इसके लिए अब पार्टी ने यूपी में प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया के सहयोग के लिए तीन-तीन सचिव नियुक्त किए हैं। प्रियंका के सचिव के रूप मे जुबैर खान, कुमार आशीष और बाजीराव खाडे को जिम्मेदारी दी गयी है। हालांकि इन तीन नामों में एक नाम विवादों में आ गया है। प्रियंका गांधी के सहयोग के लिए तीन लोगों में कुमार आशीष का नाम भी शामिल है। कुमार आशीष बिहार के रहने वाले हैं और वो यूथ कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं। उन्हे प्रियंका का सचिव बनाए जाने के बाद बिहार में जेडीयू हमलावर हो गई है। दरअसल करीब 14 साल पुराने पेपर लीक मामले में उनकी गिरफ्तारी की खबरें सामने आईं थीं। जेडीयू नेता अशोक चौधरी का कहना है कि कैसे लोगों को राष्ट्रीय सचिव बनाया जा रहा है। कुमार आशीष अपराधी प्रवृति का रहा है और कई बार जेल जा चुका है। ऐसे दागियों को प्रियंका के साथ लाया जा रहा है। बिहार यूथ कांग्रेस के उपाध्यक्ष रहे कुमार आशीष को 2005 में इंटरमीडिएट परीक्षा का पेपर कथित तौर पर लीक करने का आरोपी बनाया गया था, जिसके चलते कांग्रेस ने उन्हें निष्कासित कर दिया था। पिछले बिहार विधानसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर बांकीपुर सीट से चुनाव भी लड़ा था लेकिन बीजेपी उम्मीदवार ने उन्हें हरा दिया था।