खुशखबरी: महज 900 रुपये में लखनऊ और दिल्ली का सफर कराएगी जेट एयरवेज

jet airways
खुशखबरी: महज 900 रुपये में लखनऊ और दिल्ली का सफर कराएगी जेट एयरवेज

नई दिल्ली। नाथ नगरी बरेली में आगामी जनवरी माह में एयर टर्मिनल की शुरुआत हो जाएगी। इसका काम जोरों पर चल रहा है। जिसके प्रशासन ने समन्वय बैठक बुलाई है। इसमें वायुसेना और केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय से शीघ्र एनओसी लेने की रणनीति बनेगी। इस बीच निदेशक नागरिक उड्डयन निदेशक सूर्यपाल गंगवार ने सिविल एयर एन्क्लेव निर्माण संबंधी कार्यों का जायजा लिया। उन्होने 26 जनवरी से पहले हर हाल में उड़ान शुरू करने का आदेश दिया है।

Jet Airways Will Do Air Travel Of Rs 900 From Bareily To Delhi And Lucknow Very Soon :

बता दें कि शुक्रवार दोपहर नागरिक उड्डयन निदेशक/ विशेष सचिव सूर्यपाल गंगवार सिविल एयर एन्क्लेव का निरीक्षण करने पहुंचे। वहां धीमी गति से चल रहे काम को लेकर उन्होने नाराजगी जताते हुए काम में तेजी लाने को कहा। इस दौरान एक कोने में पानी भरा होने पर उन्होने अधिकारियों से पूछा तो बताया गया कि लो लैंड होने से ऐसी समस्या है।

बताया जा रहा है कि बरेली से हवाई सेवाएं शुरू करने की जिम्मेदारी निजी कंपनी जेट एयरवेज को सौंपी गयी है। विशेष सचिव गंगवार ने बताया कि कंपनी को एयरक्राफ्ट की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। एयरक्राफ्ट की क्षमता 72 सीट होगी। इसके फेरे मांग के अनुसार ज्यादा होंगे।

नई दिल्ली। नाथ नगरी बरेली में आगामी जनवरी माह में एयर टर्मिनल की शुरुआत हो जाएगी। इसका काम जोरों पर चल रहा है। जिसके प्रशासन ने समन्वय बैठक बुलाई है। इसमें वायुसेना और केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय से शीघ्र एनओसी लेने की रणनीति बनेगी। इस बीच निदेशक नागरिक उड्डयन निदेशक सूर्यपाल गंगवार ने सिविल एयर एन्क्लेव निर्माण संबंधी कार्यों का जायजा लिया। उन्होने 26 जनवरी से पहले हर हाल में उड़ान शुरू करने का आदेश दिया है।बता दें कि शुक्रवार दोपहर नागरिक उड्डयन निदेशक/ विशेष सचिव सूर्यपाल गंगवार सिविल एयर एन्क्लेव का निरीक्षण करने पहुंचे। वहां धीमी गति से चल रहे काम को लेकर उन्होने नाराजगी जताते हुए काम में तेजी लाने को कहा। इस दौरान एक कोने में पानी भरा होने पर उन्होने अधिकारियों से पूछा तो बताया गया कि लो लैंड होने से ऐसी समस्या है।बताया जा रहा है कि बरेली से हवाई सेवाएं शुरू करने की जिम्मेदारी निजी कंपनी जेट एयरवेज को सौंपी गयी है। विशेष सचिव गंगवार ने बताया कि कंपनी को एयरक्राफ्ट की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। एयरक्राफ्ट की क्षमता 72 सीट होगी। इसके फेरे मांग के अनुसार ज्यादा होंगे।