1. हिन्दी समाचार
  2. मजदूरों के मसीहा बने झारखंड के CM हेमंत शोरेन, गृह मंत्री को पत्र लिखकर की ये मांग

मजदूरों के मसीहा बने झारखंड के CM हेमंत शोरेन, गृह मंत्री को पत्र लिखकर की ये मांग

Jharkhand Cm Hemant Shoren Became The Messiah Of The Workers By Writing A Letter To The Home Minister Demanding This

रांची। अंडमान और लद्दाख सहित अन्य दूर के राज्यों में फंसे झारखंड के लोगों को चार्टर प्लेन से झारखंड वापस आयेंगे. इसके लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गृह मंत्रालय से आदेश मांगा है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से अनुरोध किया है कि अंडामान-निकोबार, लद्दाख और उत्तर पूर्व के राज्यों में लॉकडाउन की वजह से फंसे झारखंड के श्रमिकों और अन्य लोगों को चार्टड प्लेन से लाने की अनुमति प्रदान करें.

पढ़ें :- आत्मविश्वास, सकरात्मकता के साथ पूरी दुनिया के लिए करोड़ो भारतीयों का संदेश लेकर आया हूं

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन श्रमिकों को किसी अन्य परिवहन के माध्यम जैसे बस या ट्रेन से लाना फिलहाल संभव नहीं है. इससे पूर्व भी 12 मई को मामले से संबंधित आग्रह गृह मंत्रालय से किया गया है, लेकिन अभीतक अनुमति नहीं मिली है. गौरतलब है कि लॉकडाउन 3.0 के दौरान कई राज्यों में फंसे श्रमिकों और अन्य लोगों को ट्रेन और बसों से झारखंड वापस लाया गया है. अभी भी झारखंड के कई लोग दूसरे राज्यों में फंसे हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि विभिन्न राज्यों में फंसे झारखंड के लोगों को लाने की अनुमति प्रधानमंत्री द्वारा मिली थी. इसके बाद लॉकडाउन में फंसे राज्य के करीब डेढ़ लाख श्रमिक, छात्र व अन्य लोग झारखंड आ चुके हैं. लेकिन लद्दाख में करीब 200, उत्तर पूर्वी राज्यों में करीब 450 श्रमिक अब भी फंसे हुए हैं, जिन्हें ट्रेन या बस से लाना फिलहाल संभव नहीं है. अतः गृह मंत्रालय राज्य के श्रमिकों को सम्मान पूर्वक लाने की अनुमति प्रदान करे.

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...