झारखण्ड : पीएम मोदी ने विपक्ष पर किया वार, कहा कांग्रेस और जेएमएम की सरकार में खूब होता था भ्रष्टाचार

pm modi
झारखण्ड : पीएम मोदी ने विपक्ष पर किया वार, कहा कांग्रेस और जेएमएम की सरकार में खूब होता था भ्रष्टाचार

नई दिल्ली। पीएम नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को झारखंड में एक रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होने विपक्षी पार्टियों में जमकर हमला बोला। उन्होने कहा कि राज्य में कांग्रेस और जेएमएम सरकार के दौरान सिर्फ भ्रष्टाचार और लूट की खबरे आती थीं।

Jharkhand Pm Modi Attacked The Opposition Said There Was A Lot Of Corruption In Congress And Jmm Government :

पीएम मोदी ने कहा कि जब इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर होता है, सरकार स्थिर होती है, तब उद्योग और निवेश के लिए माहौल बनता है। यहां की भाजपा सरकार ने भरपूर कोशिश की है कि झारखंड में निवेश को आकर्षित किया जाए, ताकि यहां के युवाओं को यहीं पर रोज़गार मिल सके।

अपनी योजनाओं के बारे में बोलते हुए उन्होने कहा कि यहां उज्जवला योजना के तहत यहां के लाखों गरीब परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन मिला है। अब मध्यम वर्ग के परिवारों के लिए भी पाइप से सस्ती गैस देने का काम तेज़ी से चल रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2014 से पहले के 5 वर्ष में जहां 300 किलोमीटर से कम की रेल लाइनें चालू हुईं, वहीं केंद्र में भाजपा शासन के दौरान करीब 700 किलोमीटर लाइनें खोली गईं। कांग्रेस और उसके सहयोगियों ने अपनी सरकार के पाँच साल में झारखंड के रेल इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 2 हज़ार करोड़ रुपए आवंटित किए थे।

नई दिल्ली। पीएम नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को झारखंड में एक रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होने विपक्षी पार्टियों में जमकर हमला बोला। उन्होने कहा कि राज्य में कांग्रेस और जेएमएम सरकार के दौरान सिर्फ भ्रष्टाचार और लूट की खबरे आती थीं। पीएम मोदी ने कहा कि जब इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर होता है, सरकार स्थिर होती है, तब उद्योग और निवेश के लिए माहौल बनता है। यहां की भाजपा सरकार ने भरपूर कोशिश की है कि झारखंड में निवेश को आकर्षित किया जाए, ताकि यहां के युवाओं को यहीं पर रोज़गार मिल सके। अपनी योजनाओं के बारे में बोलते हुए उन्होने कहा कि यहां उज्जवला योजना के तहत यहां के लाखों गरीब परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन मिला है। अब मध्यम वर्ग के परिवारों के लिए भी पाइप से सस्ती गैस देने का काम तेज़ी से चल रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि 2014 से पहले के 5 वर्ष में जहां 300 किलोमीटर से कम की रेल लाइनें चालू हुईं, वहीं केंद्र में भाजपा शासन के दौरान करीब 700 किलोमीटर लाइनें खोली गईं। कांग्रेस और उसके सहयोगियों ने अपनी सरकार के पाँच साल में झारखंड के रेल इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 2 हज़ार करोड़ रुपए आवंटित किए थे।