Jharkhand Update: 31 नये कोरोना संक्रमितों की पुष्टि, संख्या बढ़कर हुई 439

corona virus

रांची: 26 मई को झारखंड में 31 नये कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई । इसके साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 439 हो गयी है। मंगलवार को झारखंड के 10 ज़िलों से 31 मरीज़ पाए गये। जिनमें गुमला से 6, पश्चिमी सिंहभूम 4, हजारीबाग से 3, गढ़वा से 3, धनबाद से 3, पलामू से 2, लोहरदगा 2, जमशेदपुर 3 और कोडरमा से 2 और खूंटी से 2 मरीज की पुष्टि हुई है। वहीं एक मृत प्रवासी मजदूर का भी रिपोर्ट पॉजिटिव आया है।

Jharkhand Update 31 New Corona Infected Confirmed Number Increased To 439 :

स्वास्थ्य विभाग के रिपोर्ट के मुताबिक अब तक मिले अधिकतर कोरोना संक्रमितों की ट्रेवल हिस्ट्री है। इनमें ज्यादातर मरीज़ प्रवासी मजदूर है । इनमें सबसे अधिक संक्रमित सूरत और महाराष्ट्र से लौटने वाले प्रवासी श्रमिक हैं। प्रवासी श्रमिको के वापस आने के साथ ही राज्य में संक्रमितों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। प्रवासियों के आने से पहले राज्य में कोरोना के मामले लगभग थम से गये थे, मगर इनकी वापसी के साथ ही इसकी रफ्तार तेज हो गई है।

साहिबगंज छोड़कर कर राज्य के सभी ज़िले कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। एक मई से पहले मात्र 10-11 – ज़िले ही कोरोना प्रभावित थे लेकिन एक मई के बाद प्रवासी मजदूरों के झारखंड लौटने के साथ ही राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़ता गया और देखते देखते 25-26 दिनों में लगभग पूरे झारखंड को अपनी जद में ले चुका है।

झारखण्ड में अबतक कोरोना के कुल 439 संक्रमित पाए गये हैं जिनमें 175 मरीजों ने कोरोना पर विजय प्राप्त कर अस्पताल से अपने -अपने घर लौट गये वहीं 250 ऐक्टिव केस बचे हैं जिनका इलाज राज्य के कोविड-19 अस्पतालों में चल रहा है। जबकि चार मरीजों की अब तक मौत हो चुकी है।

रांची: 26 मई को झारखंड में 31 नये कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई । इसके साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 439 हो गयी है। मंगलवार को झारखंड के 10 ज़िलों से 31 मरीज़ पाए गये। जिनमें गुमला से 6, पश्चिमी सिंहभूम 4, हजारीबाग से 3, गढ़वा से 3, धनबाद से 3, पलामू से 2, लोहरदगा 2, जमशेदपुर 3 और कोडरमा से 2 और खूंटी से 2 मरीज की पुष्टि हुई है। वहीं एक मृत प्रवासी मजदूर का भी रिपोर्ट पॉजिटिव आया है। स्वास्थ्य विभाग के रिपोर्ट के मुताबिक अब तक मिले अधिकतर कोरोना संक्रमितों की ट्रेवल हिस्ट्री है। इनमें ज्यादातर मरीज़ प्रवासी मजदूर है । इनमें सबसे अधिक संक्रमित सूरत और महाराष्ट्र से लौटने वाले प्रवासी श्रमिक हैं। प्रवासी श्रमिको के वापस आने के साथ ही राज्य में संक्रमितों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। प्रवासियों के आने से पहले राज्य में कोरोना के मामले लगभग थम से गये थे, मगर इनकी वापसी के साथ ही इसकी रफ्तार तेज हो गई है। साहिबगंज छोड़कर कर राज्य के सभी ज़िले कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। एक मई से पहले मात्र 10-11 - ज़िले ही कोरोना प्रभावित थे लेकिन एक मई के बाद प्रवासी मजदूरों के झारखंड लौटने के साथ ही राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़ता गया और देखते देखते 25-26 दिनों में लगभग पूरे झारखंड को अपनी जद में ले चुका है। झारखण्ड में अबतक कोरोना के कुल 439 संक्रमित पाए गये हैं जिनमें 175 मरीजों ने कोरोना पर विजय प्राप्त कर अस्पताल से अपने -अपने घर लौट गये वहीं 250 ऐक्टिव केस बचे हैं जिनका इलाज राज्य के कोविड-19 अस्पतालों में चल रहा है। जबकि चार मरीजों की अब तक मौत हो चुकी है।