सुल्तानपुर: जिला प्रशासन के खिलाफ सड़क पर उतरे पटरी गुमटी व्यापारी

सुल्तानपुर: अतिक्रमण अभियान के तहत जिला प्रशासन द्वारा पटरी गुमटी दुकानदारों को हटाए जाने के संबंध में आम आदमी पार्टी के जिला संयोजक शोहरत अली के नेतृत्व में सैकड़ो ठेला गुमटी दुकानदारों ने पूरे नगर में जुलुस निकाल कर विरोध प्रदर्शन करते हुए जिलाधिकारी कार्यालय पहुँच कर प्रशासनिक अधिकारी को अपना मांग पत्र सौपा ।

प्रशासनिक अधिकारी के माध्यम से जिलाधिकारी को दिए गए ज्ञापन में आम आदमी पार्टी ने मांग की है कि उजाड़े गए दुकानदारों को बसाया जाय, ठेले वालो का लूटा गया माल ठेले सहित वापस करते हुए उन लोगों पर कार्यवाही की जाय जिन्होंने ठेला दुकानदारों को लूटने का कार्य किया है।




आम आदमी पार्टी ने ज्ञापन के माध्यम से यह भी मांग की है। कि सब्जी व् फल विक्रेता दुकानदारों को सब्जी मंडी के अंदर बने चबूतरों पर स्थाई रूप से बसाया जाय, शहर में बिना मानचित्र व् नाले , नजूल की भूमि पर बने बिना पार्किंग के कॉम्पलेक्सों पर कार्यवाही की जाय, नगर पालिका द्वारा अवैध रूप से बने टैक्सी पार्किंग को शहर से हटाया जाय, नो एंट्री के बावाजूद शहर में अनधिकृत रूप से चार पहिया वाहनों पर अंकुश लगाया जाय।

आम पार्टी के संयोजक का ये है कहना……

आम आदमी पार्टी के संयोजक शोहरत अली ने कहा कि जिलाधिकारी कार्यालय पहुँच कर जब हमने जिलाधिकारी से फ़ोन पर बात किया तो उन्होंने कहा कि बीते बुधवार को आप के द्वारा नगर की दुकानें बंद करवा कर जुलुस निकाल कर मेरे आवास पर प्रदर्शन किया गया था जिसके एवज में आप के ऊपर कार्यवाही की जायेगी , जिला संयोजक ने आगे यह भी कहा कि जिलाधिकारी के इन बातों से हम सभी लोग काफी आहत है , क्या.. लोक -तान्त्रिक इस देश में कोई आम आदमी अपनी बात नहीं रख सकता जिला संयोजक ने आगे यह भी कहा कि हम पीछे हटने वाले नहीं है अगर पटरी गुमटी दुकानदारों के खिलाफ ऐसे ही अत्त्याचार होगा तो हम पटरी गुमटी दुकानदारों के साथ लोकतान्त्रिक ढंग से प्रदर्शन करेंगे।




किन्नर भी हुई लामबंद…..

समाजवादी पार्टी की नेता सोनम किन्नर भी प्रशासन के खिलाफ मोर्चा छेड़ने का मन बना लिया है। आम आदमी पार्टी के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन चल ही रहा था कि इसी बीच मनोज रावत के कई दिन से गायब होने के मामले को लेकर कलेक्ट्रेट पहुंची सोनम किन्नर को गुमटी पटरी दुकानदारों ने घेर लिया , सोनम किन्नर ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जेल भेजना हो तो भेज दो लेकिन अगर पटरी गुमटी दुकानदारों के खिलाफ अब कार्यवाही हुई तो प्रशासन को जेल में जगह नहीं मिलेगी हम सभी दुकानदार सहित जेल जाने को तैयार है।

सुलतानपुर से बृजेश श्रीवास्तव की रिपोर्ट