जो नेता PAK से पूछे बिना टॉयलेट तक नहीं जाते, उनसे क्या बात करे: सत्यपाल मलिक

जो नेता PAK से पूछे बिना टॉयलेट तक नहीं जाते, उनसे क्या बात करे: सत्यपाल मलिक
जो नेता PAK से पूछे बिना टॉयलेट तक नहीं जाते, उनसे क्या बात करे: सत्यपाल मलिक

नई दिल्ली। राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने हुर्रियत और अलगाववादी नेताओं पर पहली बार कड़ी टिप्पणी की है। सत्यपाल मलिक ने कहा कि हुर्रियत नेता तो बिना पाकिस्तान से पूछे शौचालय तक नहीं जाते हैं। राज्यपाल ने कहा कि जब तक वे पाकिस्तान को अलग नहीं रखेंगे, उनके साथ कोई बातचीत नहीं होगी।

Jk Governor Sp Malik On Hurriyat Says They Dont Even Go To The Toilet Without Asking Pak :

एसकेआईसीसी में वीरवार को पर्यटन पर आयोजित एक कार्यक्रम के बाद पत्रकारों ने सवाल किया क्या कश्मीर समस्या के समाधान के लिए हुर्रियत और अलगाववादियों से बातचीत होगी तो कहा कि उन्होंने अब तक किसी भी पक्षकार से बातचीत नहीं की है। हाल में विभिन्न पार्टियों के प्रतिनिधियों उमर अब्दुल्लाह, महबूबा मुफ्ती व एमवाई तारिगामी से मुलाकात की थी। हालांकि, बातचीत सरकार का मसला है। वे इसके लिए बेहतर माहौल तैयार करने का काम कर रहे हैं।

इससे पहले मलिक ने बीजेपी महासचिव राम माधव से राज भवन में मुलाकात की। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया, ‘राम माधव ने यहां राजभवन में राज्यपाल मलिक से मुलाकात की। इस दौरान विकास और शांति और सामान्य हालात समेत राज्य के समक्ष विभिन्न चुनौतियों को लेकर चर्चा हुई। प्रवक्ता ने बताया कि राम माधव ने राज्यपाल को शहरी स्थानीय निकायों के चुनावों को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए बधाई दी और आशा जताई कि आने वाले पंचायत चुनाव में अधिकांश लोग मतदान में हिस्सा लेंगे।

नई दिल्ली। राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने हुर्रियत और अलगाववादी नेताओं पर पहली बार कड़ी टिप्पणी की है। सत्यपाल मलिक ने कहा कि हुर्रियत नेता तो बिना पाकिस्तान से पूछे शौचालय तक नहीं जाते हैं। राज्यपाल ने कहा कि जब तक वे पाकिस्तान को अलग नहीं रखेंगे, उनके साथ कोई बातचीत नहीं होगी। एसकेआईसीसी में वीरवार को पर्यटन पर आयोजित एक कार्यक्रम के बाद पत्रकारों ने सवाल किया क्या कश्मीर समस्या के समाधान के लिए हुर्रियत और अलगाववादियों से बातचीत होगी तो कहा कि उन्होंने अब तक किसी भी पक्षकार से बातचीत नहीं की है। हाल में विभिन्न पार्टियों के प्रतिनिधियों उमर अब्दुल्लाह, महबूबा मुफ्ती व एमवाई तारिगामी से मुलाकात की थी। हालांकि, बातचीत सरकार का मसला है। वे इसके लिए बेहतर माहौल तैयार करने का काम कर रहे हैं। इससे पहले मलिक ने बीजेपी महासचिव राम माधव से राज भवन में मुलाकात की। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया, 'राम माधव ने यहां राजभवन में राज्यपाल मलिक से मुलाकात की। इस दौरान विकास और शांति और सामान्य हालात समेत राज्य के समक्ष विभिन्न चुनौतियों को लेकर चर्चा हुई। प्रवक्ता ने बताया कि राम माधव ने राज्यपाल को शहरी स्थानीय निकायों के चुनावों को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए बधाई दी और आशा जताई कि आने वाले पंचायत चुनाव में अधिकांश लोग मतदान में हिस्सा लेंगे।