J&K: बारामूला से जैश आतंकी पकड़ा गया, भारी मात्रा में हथियार बरामद

kashmir
J&K: बारामूला से जैश आतंकी पकड़ा गया, भारी मात्रा में हथियार बरामद

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के सक्रिय आतंकी को गिरफ्तार किया है। बारामूला से गिरफ्तार किए गए इस आतंकी का नाम मोहसिन सालेह है इस दौरान उसके पास से भारी मात्रा में हथियार और गोलाबरूद बरामद किया गया है। फिलहाल मामले की जांच जारी है।

Jk Jaish Terrorist Caught In Baramulla In Jammu And Kashmir Arms Recovered In Large Quantity :

बता दें कि जम्मू कश्मीर से भारत सरकार द्वारा 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से बौखलाए आंतकी यहां बड़ा हमला करने की फिराक में हैं। इसे लेकर खुफिया एजेंसी लगातार अलर्ट जारी कर रही हैं और सुरक्षाबल एकदम मुस्तैद हैं। इसी का नतीजा है कि आज घाटी को दहलाने की साजिश रच रहे आतंकियों के मंसूबे को नाकाम कर दिया गया।

इससे पहले खुफिया एजेंसियों ने आतंकी हमले का अलर्ट जारी किया था। इस कारण दिल्ली, मुंबई, जम्मू-कश्मीर और पंजाब में सुरक्षा एजेंसी हाई अलर्ट पर हैं। गृह मंत्रालय के सूत्रों ने कहा था कि दिल्ली, मुंबई में सभी प्रमुख एयरपोर्ट, बंदरगाह, प्रमुख प्रतिष्ठानों और सरकारी कार्यालयों पर सुरक्षा सख्त कर दी गई।

कश्मीर में शांति नहीं चाहते आतंकी

बता दें कि, कश्मीर में केंद्र सरकार शांति व्यवस्था और विकास के लिए तेजी से काम कर रही है।  आतंकी सरकार की मेहनत पर पानी फेरना चाहते हैं। यहां जल्द ही ब्लॉक विकास परिषद (बीडीसी) के चुनाव होने वाले हैं। आतंकी नहीं चाहते की यह चुनाव हो। यही कारण है कि शनिवार रात को उन्होंने अनंतनाग में एक पंच को उसके घर में घुसकर गोलियों से भून दिया। इससे पहले अनंनतनाग में ही शनिवार को सुबह आतंकियों ने जिला उपायुक्त कार्यालय पर ग्रेनेड फेंक दिया था। इस हमले में 10 लोग घायल हो गए थे। उन्होंने 12 घंटों में दो वारदात को अंजाम दिया।  

पुलवामा हमले को दिया था अंजाम

गौरतलब है कि, जैश-ए-मुहम्मद पहले भी कश्मीर समेत भारत में आतंकी हमला करा चुका है। वैश्विक आतंकी मसूद अजहर इसका मुखिया है। फरवरी में पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला हुआ था। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले को जैश ने ही अंजाम दिया था।  

 

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के सक्रिय आतंकी को गिरफ्तार किया है। बारामूला से गिरफ्तार किए गए इस आतंकी का नाम मोहसिन सालेह है इस दौरान उसके पास से भारी मात्रा में हथियार और गोलाबरूद बरामद किया गया है। फिलहाल मामले की जांच जारी है। बता दें कि जम्मू कश्मीर से भारत सरकार द्वारा 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से बौखलाए आंतकी यहां बड़ा हमला करने की फिराक में हैं। इसे लेकर खुफिया एजेंसी लगातार अलर्ट जारी कर रही हैं और सुरक्षाबल एकदम मुस्तैद हैं। इसी का नतीजा है कि आज घाटी को दहलाने की साजिश रच रहे आतंकियों के मंसूबे को नाकाम कर दिया गया। इससे पहले खुफिया एजेंसियों ने आतंकी हमले का अलर्ट जारी किया था। इस कारण दिल्ली, मुंबई, जम्मू-कश्मीर और पंजाब में सुरक्षा एजेंसी हाई अलर्ट पर हैं। गृह मंत्रालय के सूत्रों ने कहा था कि दिल्ली, मुंबई में सभी प्रमुख एयरपोर्ट, बंदरगाह, प्रमुख प्रतिष्ठानों और सरकारी कार्यालयों पर सुरक्षा सख्त कर दी गई। कश्मीर में शांति नहीं चाहते आतंकी बता दें कि, कश्मीर में केंद्र सरकार शांति व्यवस्था और विकास के लिए तेजी से काम कर रही है।  आतंकी सरकार की मेहनत पर पानी फेरना चाहते हैं। यहां जल्द ही ब्लॉक विकास परिषद (बीडीसी) के चुनाव होने वाले हैं। आतंकी नहीं चाहते की यह चुनाव हो। यही कारण है कि शनिवार रात को उन्होंने अनंतनाग में एक पंच को उसके घर में घुसकर गोलियों से भून दिया। इससे पहले अनंनतनाग में ही शनिवार को सुबह आतंकियों ने जिला उपायुक्त कार्यालय पर ग्रेनेड फेंक दिया था। इस हमले में 10 लोग घायल हो गए थे। उन्होंने 12 घंटों में दो वारदात को अंजाम दिया।   पुलवामा हमले को दिया था अंजाम गौरतलब है कि, जैश-ए-मुहम्मद पहले भी कश्मीर समेत भारत में आतंकी हमला करा चुका है। वैश्विक आतंकी मसूद अजहर इसका मुखिया है। फरवरी में पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला हुआ था। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले को जैश ने ही अंजाम दिया था।