1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Joshimath News: जीवन भर की कमाई मकान में लगाई, अब कम मुआवजे को लेकर बढ़ता जा रहा आक्रोश

Joshimath News: जीवन भर की कमाई मकान में लगाई, अब कम मुआवजे को लेकर बढ़ता जा रहा आक्रोश

जोशीमठ में संकट बढ़ता जा रहा है। भू-धंसाव की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं। कुछ लोगों ने घर खाली कर दिया है लेकिन कुछ लोग अपने घर को छोड़ने को तैयार नहीं है। इस बीच जोशीमठ में प्रशासन के साथ स्थानीय लोगों के बीच मुआवजे को लेकर बातचीत चल रही है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Joshimath News: जोशीमठ में संकट बढ़ता जा रहा है। भू-धंसाव की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं। कुछ लोगों ने घर खाली कर दिया है लेकिन कुछ लोग अपने घर को छोड़ने को तैयार नहीं है। इस बीच जोशीमठ में प्रशासन के साथ स्थानीय लोगों के बीच मुआवजे को लेकर बातचीत चल रही है। प्रशासन की ओर से प्रभावितों परिवारों को डेढ़ लाख रुपये मुआवजा दिए जाने की बात कही गई, लेकिन प्रभावितों ने इससे इनकार कर दिया।

पढ़ें :- प्रो. पीके मिश्रा का इस्तीफा, तो विनय पाठक पर गंभीर आरोपों के बाद राजभवन की 'मेहरबानी' का क्या है 'राज'?

जीवन भर की कमाई मकान में लगाई
लोगों का कहना है कि अपने जीवन भर की कमाई को मकान में लगा दिया है। ऐसे में अब ये मकान भू—धंसाव की चपेट में आने लगी है। पीड़ितों का कहना है कि हमारी जीवन की कमाई चली गई लेकिन सरकार राहत के नाम पर सिर्फ दर्द देने का काम कर रही है। इसको लेकर प्रदर्शन भी जारी है।

कम मुआवजे को लेकर बढ़ा लोगों में आक्रोश
बताया जा रहा है कि 723 परिवारों को मुआवजा दिया जाएगा। दो हाटलों को ढहाए जाने की भी बात कही जा रही हे। दो होटलों के पास रहने वाले पांच परिवारों पर सबसे अधिक असर पड़ने की आशंका है। वहीं मलारी इन और माउंट व्यू होटल के बाहर व्यापारियों को धरना-प्रदर्शन जारी है। प्रदर्शन कर रहे लोगों का आरोप है कि सरकार की तरफ से कम मुआवजा दिया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि सराकर राहत देने के नाम पर सिर्फ दर्द दे रही है।

 

पढ़ें :- Parliament Live : पीएम मोदी, बोले- '2004 से 14 तक घोटालों का दशक, UPA ने मौकों को मुसीबत में पलटा'
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...