1. हिन्दी समाचार
  2. जेपी नड्डा बोले- सवालों से देश और फौज का मनोबल गिरा रहे राहुल

जेपी नड्डा बोले- सवालों से देश और फौज का मनोबल गिरा रहे राहुल

Jp Nadda Said Rahul Is Reducing The Morale Of The Country And The Army Due To Questions

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इस नाजुक समय में फौज और देश का मनोबल तोड़ने के सिवा कुछ नहीं किया। आज जब देश चाइना के बार्डर पर लड़ रहा है, खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत अपनी एक-एक इंच की भूमि की रक्षा करने में सक्षम है, फिर भी तरह-तरह के सवाल उठाकर राहुल गांधी देश का मनोबल गिराने में लगे हैं।

पढ़ें :- 5 मार्च 2021 का राशिफल: इस राशि के जातकों पर मां लक्ष्मी की होगी विशेष कृपा, जानिए अपनी राशि का हाल

तेलंगाना की वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए जेपी नड्डा ने कहा, ” भाजपा भी लंबे समय तक विपक्ष में रही है, लेकिन हमेशा इस तरह के हालात पर वह देश के साथ खड़ी रही है लेकिन कांग्रेस हमेशा से संवेदनशील मुद्दों पर राजनीति करती रही है।” तेलंगान की इस वर्चुअल रैली में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने हिंदी में अपनी बात रखी, वहीं पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव पी मुरलीधर राव ने उनकी बातों का तेलुगू में अनुवाद कर जनता के सामने पेश किया।

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले ऐसे नेता रहे जिन्होंने जी 20 समिट को कोरोना की लड़ाई के लिए आहृवान किया और इसकी शुरूआत की। दुनिया ने चाहे वह यूएन, वर्ल्ड बैंक या डब्ल्यूएचओ हो सभी ने प्रधानमंत्री मोदी की प्रशंसा की।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा, “पहले देश में भ्रष्टाचार का वातावरण था, देश की छवि दुनिया में नीचे आ गई थी। ऐसे समय में मोदी जी ने देश की बागडोर संभाली और तीव्र गति से भारत को आगे ले गए। आज दुनिया में, अंतराष्ट्रीय राजनीति में भारत का स्थान मोदी जी के नेतृत्व में मजबूत हुआ है।”

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कोविड 19 से लड़ाई में पिछले 3 महीनों से प्रधानमंत्री मोदी ने संघीय ढांचा बरकरार रखते हुए 6 बार देश के सभी मुख्यमंत्रियों से बातचीत की। विभिन्न पार्टियों के मुख्यमंत्रियों जिनके अलग-अलग एजेंडे थे उनको एक लड़ी में पिरोने का काम मोदी जी ने किया।

पढ़ें :- इन अभिनेत्रियों को रास नहीं आई फिल्म जगत की रंगीन दुनिया, सब छोड़ कोई बनी नन तो कोई बनी साध्वी!

योग दिवस पर केंद्रीय संस्कृति मंत्री ने एक करोड़ लोगों के जुडने की उम्मीद जताई

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...