जेपी नड्डा बोले- नेहरू की वजह से नहीं हो सकी श्यामा प्रसाद मुखर्जी हत्याकांड की जांच

jp nadda
जेपी नड्डा बोले- नेहरू की वजह से नहीं हो सकी श्यामा प्रसाद मुखर्जी हत्याकांड की जांच

नई दिल्ली। बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रविवार को एक बार फिर कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला है। जेपी नड्डा ने प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू पर हमला बोला कि जब पूरा देश डॉ. श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी की मौत की जांच की मांग कर रहा था तो पंडित नेहरू ने जांच का आदेश नहीं दिया। इतिहास इस बात का गवाह है। डॉ. मुखर्जी का बलिदान कभी व्यर्थ नहीं जाएगा, भाजपा इस कारण से प्रतिबद्ध है।

Jp Nadda Says Pandit Nehru Did Not Order An Inquiry For Dr Shyama Prasad Mukherjee Death :

आज है श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि

रविवार को श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और पार्टी के अन्य नेताओं ने राजधानी दिल्ली के बीजेपी मुख्लालय में श्रद्धांजलि अर्पित की।

कौन है जेपी नड्डा

जेपी नड्डा को भारतीय जनता पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष चुना गया है। जगत प्रकाश नड्डा (जेपी नड्डा) मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में स्वास्थ्य मंत्रालय का अहम पदभार संभाला। वह भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेताओं में से एक हैं। उन्होंने अपनी काबिलियत के दम पर पार्टी में ऊंचा मुकाम बनाया है।

प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनके बलिदान दिवस पर नमन किया और कहा कि डॉ. मुखर्जी ने अपना पूरा जीवन भारत की एकता और अखंडता को समर्पित कर दिया।


प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में कहा, “डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनके बलिदान दिवस पर स्मरण कर रहा हूं। एक समर्पित देशभक्त और राष्ट्रवादी।” उन्होंने कहा कि डॉ. मुखर्जी का पूरा जीवन भारत की एकता और अखंडता को समर्पित था। एक मजबूत और एकजुट भारत के लिये उनका जुनून हमें आज भी प्रेरित करता है और 130 करोड़ भारतीयों की सेवा करने की ताकत प्रदान करता है। गौरतलब है कि 23 जून 1953 को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मृत्यु हो गयी।

नई दिल्ली। बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रविवार को एक बार फिर कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला है। जेपी नड्डा ने प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू पर हमला बोला कि जब पूरा देश डॉ. श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी की मौत की जांच की मांग कर रहा था तो पंडित नेहरू ने जांच का आदेश नहीं दिया। इतिहास इस बात का गवाह है। डॉ. मुखर्जी का बलिदान कभी व्यर्थ नहीं जाएगा, भाजपा इस कारण से प्रतिबद्ध है। आज है श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि रविवार को श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और पार्टी के अन्य नेताओं ने राजधानी दिल्ली के बीजेपी मुख्लालय में श्रद्धांजलि अर्पित की। कौन है जेपी नड्डा जेपी नड्डा को भारतीय जनता पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष चुना गया है। जगत प्रकाश नड्डा (जेपी नड्डा) मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में स्वास्थ्य मंत्रालय का अहम पदभार संभाला। वह भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेताओं में से एक हैं। उन्होंने अपनी काबिलियत के दम पर पार्टी में ऊंचा मुकाम बनाया है। प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनके बलिदान दिवस पर नमन किया और कहा कि डॉ. मुखर्जी ने अपना पूरा जीवन भारत की एकता और अखंडता को समर्पित कर दिया। प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में कहा, "डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनके बलिदान दिवस पर स्मरण कर रहा हूं। एक समर्पित देशभक्त और राष्ट्रवादी।" उन्होंने कहा कि डॉ. मुखर्जी का पूरा जीवन भारत की एकता और अखंडता को समर्पित था। एक मजबूत और एकजुट भारत के लिये उनका जुनून हमें आज भी प्रेरित करता है और 130 करोड़ भारतीयों की सेवा करने की ताकत प्रदान करता है। गौरतलब है कि 23 जून 1953 को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मृत्यु हो गयी।