1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. जेपी नड्डा का विपक्ष पर निशाना, बोले-सपा के नेता अपना पुराना चेहरा ढक कर नए चेहरे के रूप में आना चाहते हैं

जेपी नड्डा का विपक्ष पर निशाना, बोले-सपा के नेता अपना पुराना चेहरा ढक कर नए चेहरे के रूप में आना चाहते हैं

भाजपा (BJP) अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने शनिवार को मेरठ (Meerut) में बूथ अध्यक्ष सम्मेलन को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि, कई देशों की जितनी आबादी है, उतने लोगों को BJP के कार्यकर्ताओं ने घर जाकर राशन पहुंचाया। एक दिन नहीं बल्कि महीनों तक लोगों की सेवा में लगा रहे। BJP पार्टी में ही संभव है कि आज एक बूथ अध्यक्ष, कल का प्रदेश का अध्यक्ष बन सकता है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

मेरठ। भाजपा (BJP) अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने शनिवार को मेरठ (Meerut) में बूथ अध्यक्ष सम्मेलन को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि, कई देशों की जितनी आबादी है, उतने लोगों को BJP के कार्यकर्ताओं ने घर जाकर राशन पहुंचाया। एक दिन नहीं बल्कि महीनों तक लोगों की सेवा में लगा रहे। BJP पार्टी में ही संभव है कि आज एक बूथ अध्यक्ष, कल का प्रदेश का अध्यक्ष बन सकता है। इस दौरान जेपी नड्डा ने विपक्ष (JP Nadda) पर हमला करते हुए कहा कि, कुछ पार्टियों में किसी पद पर जाने के लिए भतीजा होना जरूरी है, बेटा होना आवश्यक है।

पढ़ें :- नौतनवा:ब्लाक प्रमुख ने आरसीसी सड़क के लिए किया भूमि पूजन

उन्होंने कहा कि, सभी पार्टियां परिवारवाद की पार्टियां बन चुकी हैं। नड्डा ने कहा कि, आज सभी पार्टियां जाति के नाम पर, धर्म के नाम पर, वोट बैंक की राजनीति कर रही हैं जो देश के लिए बहुत ही खतरनाक है। राष्ट्रनायक सरदार पटेल के साथ देशद्रोही जिन्ना का जिक्र करने का षड्यंत्र किया जा रहा है, ताकि देश को खंडित किया जा सके।

इस दौरान उन्होंने अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पर निशाना साधते हुए कहा कि, हमारे यहां एक नेता है जो कह रहे थे कि ये मोदी की वैक्सीन है ये BJP की वैक्सीन है इसे मत लगाना, आज मैं उनसे पूछता हूं कि कैसी लगी मोदी की वैक्सीन, जल्द ही तुम्हारी लाल टोपी भी केसरिया होने वाली है। BJP अध्यक्ष ने कहा कि, जब कोरोना महामारी आयी तब अमेरिका जैसा शक्तिशाली देश भी तय नहीं कर पाया कि जान बचाए या मंदी से बचे लेकिन प्रधानमंत्री ने लोगों की जान भी बचाई और जहान भी बचाया।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि, बसपा सरकार में 20 चीनी मिलें बंद हुईं। सपा में 11 चीनी मिलें बंद हुई थीं। योगी जी ने बंद चीनी मिलों को खोलने का काम किया हैं। उन्होंने कहा कि, सपा के नेता अपना पुराना चेहरा ढक कर नए चेहरे के रूप में आना चाहते हैं, लेकिन ये समझना होगा कि ये नई सपा नहीं है, ये वही सपा हैं। ये वही सपा नेता हैं जो आतंकवादियों को छुड़वाने के लिए कोर्ट पहुंच गए थे। लेकिन बाद में कोर्ट ने फटकार लगाई थी। इसके साथ ही कहा कि अखिलेश सरकार में हुए दंगे को भी कोई नहीं भूल सकता है।

पढ़ें :- BBC Documentary Controversy: दिल्ली से लेकर मुंबई तक बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर हंगामा
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...