जयाललिता की मौत की होगी न्यायिक जांच, अम्मा का बंगला बनेगा मेमोरियल

Jayalalitha
जयाललिता की मौत की होगी न्यायिक जांच, अम्मा का बंगला बनेगा मेमोरियल

Judicial Probe Of Jayalalithas Death Ordered Her Bungalow Will Be Developed As Memorial

नई दिल्ली। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ईके पलानीसेल्वम ने गुरुवार को दिवंगत मुख्यमंत्री जयाललिता की मौत की न्यायिक जांच करवाने का आदेश जारी किया है। इस बात की जानकारी देते हुए पलानीसेल्वम ने कहा कि सरकार एक जांच आयोग का गठन करेगी जिसका मुखिया ​मद्रास हाईकोर्ट के किसी सेवानिवृत्त न्यायाधीश को नियुक्त किया जाएगा। यह आयोग इस बात की जांच करेगा कि जयललिता की मृत्यु किन परिस्थितियों में हुई थी। इसके साथ ही पलानीसेल्वम ने जयाललिता के पोएस गार्डन स्थित बंग्ले को मेमारियल के रूप में विकसित करने को कहा है।

सीएम पलानीसेल्वम अपने फैसले के विषय में ​मीडिया को जानकारी देते हुए कहा कि जांच आयोग की अध्यक्षता मद्रास हाईकोर्ट के किस सेवानिवृत न्यायाधीश को सौंपी जाएगी इस बात पर जल्द ही निर्णय कर लिया जाएगा। इस जांच को समयबद्ध तरीके से पूरा करवाया जाएगा। उन्होने कहा कि तमिलनाडु की जनता के एक वर्ग ने जयाललिता की मृत्यु को लेकर सवाल उठाए थे। लोगों की भावनाओं और विषय की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए सरकार को इस फैसले पर पहुंचना पड़ा।

उन्होंने कहा कि अम्मा ने अपनी प्रभावी कार्यशैली से तमिलनाडु को एक नए मुकाम तक पहुंचाने का काम किया। बीमारी के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। जहां उन पर दवाओं का असर होना बंद होने के बाद 5 दिसंबर को उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। मीडिया में अलग अलग संगठनों की ओर से उनकी मृत्यु को लेकर तरह तरह की रिपोर्टें सामने आईं। जिन्हें ध्यान में रखते हुए पूरे मामले की जांच करवाना जरूरी हो गया था।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अम्मा ने अपने राजनीतिक जीवन में लंबे संघर्ष के बीच बतौर सीएम छह बार शपथ ग्रहण की। अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने दिन रात एक कर तमिलनाडु और तमिलनाडु की जनता की भलाई और विकास के लिए काम किया। वह एक महान जननेता थीं। अलग अलग वर्ग के लोगों की ओर से अम्मा के आवास को उनके मे​मोरियल के रूप में विकसित करने की ​तमाम सिफारिशें उन्हें लगातार मिल रहीं थी। जिन पर विचार करने के बाद उन्होंंने अम्मा के बंगले को मेमोरियल के रूप में विकसित करने का फैसला लिया है।

नई दिल्ली। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ईके पलानीसेल्वम ने गुरुवार को दिवंगत मुख्यमंत्री जयाललिता की मौत की न्यायिक जांच करवाने का आदेश जारी किया है। इस बात की जानकारी देते हुए पलानीसेल्वम ने कहा कि सरकार एक जांच आयोग का गठन करेगी जिसका मुखिया ​मद्रास हाईकोर्ट के किसी सेवानिवृत्त न्यायाधीश को नियुक्त किया जाएगा। यह आयोग इस बात की जांच करेगा कि जयललिता की मृत्यु किन परिस्थितियों में हुई थी। इसके साथ ही पलानीसेल्वम ने जयाललिता के पोएस गार्डन स्थित बंग्ले…