जस्टिस जेएस खेहर ने ली मुख्य न्यायाधीश पद की शपथ

Justice Js Khehar Sworn In As Chief Justice Of India

नई दिल्ली। जस्टिस जगदीश खेहर ने राष्ट्रपति भवन में बुधवार को चीफ जस्टिस ऑफ़ इंडिया के पद पर शपथ ली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने जस्टिस खेहर को सुप्रीम कोर्ट के 44वें मुख्य न्यायाधीश के तौर पर शपथ दिलाई। शपथ समारोह में पीएम मोदी भी मौजूद रहे।




पूर्व जस्टिस ऑफ़ इंडिया टीएस ठाकुर ने जगदीश खेहर को मुख्य न्यायाधीश के तौर पर नॉमिनेट किया था। सेवानिर्वित होने के बाद जस्टिस ठाकुर की जगह जगदीश खेहर ने ली। जस्टिस खेहर का कार्यकाल 28 अगस्त 2017 तक का होगा। जस्टिस खेहर उस समय देश के चीफ जस्टिस बन रहे हैं जब कार्यपालिका और न्यायपालिका के बीच जजों की नियुक्ति को लेकर टकराव चल रहा है।

एनजेएसी(राष्ट्रीय न्यायिक नियुक्ति आयोग) मामले में पीठ की अध्यक्षता करने के अलावा जस्टिस खेहर उस पीठ की भी अध्यक्षता कर चुके हैं, जिसने अरुणाचल प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने को खारिज कर दिया था। जस्टिस खेहड़ उस पीठ के भी सदस्य थे, जिसने सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय की दो कंपनियों में लोगों द्वारा निवेश किए गए धन की वापसी से जुड़े मामले की सुनवाई के दौरान रॉय को जेल भेज दिया था।




खेहर नियमित कर्मचारियों जैसे कर्तव्यों का निवर्हन करने वाले दिहाड़ी मजदूरों, अस्थायी एवं अनुबंध कर्मचारियों के लिए ‘समान कार्य के लिए समान वेतन’ के सिद्धांत की पैरोकारी करने वाला अहम फैसला सुनाने वाली पीठ के भी अध्यक्ष रहे हैं। इसके पहले जस्टिस खेहर पंजाब, हरियाणा और कर्णाटक में भी न्यायधीश के पद पर रह चुके है।

नई दिल्ली। जस्टिस जगदीश खेहर ने राष्ट्रपति भवन में बुधवार को चीफ जस्टिस ऑफ़ इंडिया के पद पर शपथ ली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने जस्टिस खेहर को सुप्रीम कोर्ट के 44वें मुख्य न्यायाधीश के तौर पर शपथ दिलाई। शपथ समारोह में पीएम मोदी भी मौजूद रहे। पूर्व जस्टिस ऑफ़ इंडिया टीएस ठाकुर ने जगदीश खेहर को मुख्य न्यायाधीश के तौर पर नॉमिनेट किया था। सेवानिर्वित होने के बाद जस्टिस ठाकुर की जगह जगदीश खेहर ने ली। जस्टिस खेहर का कार्यकाल…