नई दिल्ली। सीजेआई जेएस खेहर का कार्यकाल पूरा होने के बाद जस्टिस दीपक मिश्रा देश के अगले चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (Chief Justice of India) होंगे। जस्टिस खेहर का कार्यकाल 25 अगस्त 2017 को खत्म हो रहा है। जस्टिस खेहर देश के पहले सिख चीफ जस्टिस हैं।

जस्टिस दीपक मिश्रा देश के चार हाईकोर्ट में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। ओडिशा और मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में एडिशनल जज के रूप में नियुक्ति पाने वाले जस्टिस मिश्रा को पूर्णकालिक जज के रूप में पहली नियुक्ति 1997 में मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में ही मिली थी। जिसके 2009 में वह पटना हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस नियुक्त हुए। मई 2010 में उन्हें दिल्ली हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस बनाया गया और 2011 में वह सुप्रीम कोर्ट आॅफ इंडिया चले गए।

बताया जा रहा है कि दीपक मिश्रा चीफ जस्टिस आॅफ इंडिया की कुर्सी पर 14 महीनों तक रहेंगे। सुप्रीम कोर्ट के जज के रूप में उनका कार्यकाल करीब सात वर्षों का रहा है। जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली बेंचों ने ही 1993 के मुंबई ब्लास्ट कांड के दोषी याकूब मेनन की फांसी और निभर्याकांड के दोषियोंं की सजा का बरकरार रखने के निर्णय सुनाए हैं।