1. हिन्दी समाचार
  2. बॉलीवुड
  3. Kaali Poster Row: भारतीय उच्चायोग ने ‘काली’ के निर्माता को दिया निर्देश, कनाडा सरकार ने भी लगाई फटकार

Kaali Poster Row: भारतीय उच्चायोग ने ‘काली’ के निर्माता को दिया निर्देश, कनाडा सरकार ने भी लगाई फटकार

जहां एक तरफ देश में धर्म संग्राम छिड़ा हुआ है वहीं दूसरी तरफ फिल्मी पर्दे पर जब-जब भगवान की प्रतिमा के साथ अजीबोगरीब एक्सपेरिमेंट किया जा रहा है. दरअसल, इन दिनों एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'काली' ने ऐसा ही तूफान लाया है. 

By आराधना शर्मा 
Updated Date

नई दिल्ली: जहां एक तरफ देश में धर्म संग्राम छिड़ा हुआ है वहीं दूसरी तरफ फिल्मी पर्दे पर जब-जब भगवान की प्रतिमा के साथ अजीबोगरीब एक्सपेरिमेंट किया जा रहा है. दरअसल, इन दिनों एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘काली’ ने ऐसा ही तूफान लाया है.

पढ़ें :- Kaali Poster Row : फिल्म 'काली' के आपत्तिजनक पोस्टर पर यूपी और दिल्ली में FIR दर्ज, निर्माता लीना ने दी ये सफाई

इस डॉक्यूमेंट्री फिल्म का पोस्टर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का काम कर रहा है. दरअसल फिल्म के पोस्टर पर देवी को धूम्रपान करते और एलजीबीटीक्यू का झंडा थामे दिखाया गया है, जिसकी जमकर आलोचना हो रही है.

अब इस मामले में कनाडा के इंडियन हाई कमिशन (Indian High Commission) ने दखलअंदाजी करते हुए ऑर्गनाइजर्स से उकसाने वाले कॉन्टेंट हटाने की मांग की है. आपको बता दें कि टोरंटो निवासी फिल्म निर्माता लीना मणिमेकलाई (Leena Manimekalai) ने अपनी फिल्म के इस पोस्टर का सपोर्ट किया था और कहा कि वह जब तक जिंदा रहेंगी बेखौफ अपनी आवाड बुलंद रखना जारी रखेंगी.

‘काली’ के पोस्टर के साथ जहां सोशल मीडिया पर हिन्दुओं के धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने की बातें शुरू हुईं और ‘अरेस्ट लीना मणिमेकलाई’ (Arrest Leena Manimekalai)  हैशटैग ट्रेंड होने लगा.

इसके तुरंत बाद इंडियन हाई कमिशन, कनाडा (कनाडा में भारतीय दूतावास/ उच्चायोग ) ने पोस्टर पर हो रही कॉन्ट्रोवर्सी पर ऐक्शन लिया। यह फिल्म आगा खान म्यूजियम, टोरंटो में दिखाई गई थी, जिसके बाद कमिशन ने इसमें मौजूद उकसाने वाले मटीरियल को हटाने की मांग की है.

हिन्दू देवी की अपमानजनक झलक अपने स्टेटमेंट में हाई कमिशन ने कहा है कि उन्हें कनाडा में इस फिल्म के खिलाफ हिन्दू कम्यूनिटी के लीडर्स की तरफ से शिकायतें मिल रही हैं. अपनी शिकायत में लोगों ने इसे हिन्दू देवी की अपमानजनक झलक है। बता दें कि यह फिल्म टोरंटो के आगा खान संग्रहालय में ‘अंडर द टेंट’ प्रॉजेक्टे के तहत दिखाया गया.

ऑर्गनाइजर्स के खिलाफ ऐक्शन लेने की मांग इसमें बताया गया है कि इस पोस्टर के खिलाफ कई हिन्दू ग्रुप्स अथॉरिटी के पास पहुंची है और ऑर्गनाइजर्स के खिलाफ ऐक्शन लेने की मांग की है. हीं दूसरी तरफ लोगों के विरोध के बीच फिल्म डायरेक्टर मणिमेकलाई ने यह कहते हुए पलटवार किया है कि वह (इसके लिए) अपनी जान देने को भी तैयार हैं.

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...