मंत्रिमंडल विस्‍तार से पहले कलराज मिश्रा ने दिया इस्तीफा, बोले- ‘मैंने 75 साल पूरे कर लिए हैं’

नई दिल्ली। केंद्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री कलराज मिश्रा ने मंत्रिमंडल में रविवार के फेरबदल से पहले इस्तीफा दे दिया है। वरिष्ठ भाजपा नेता कलराज मिश्रा ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और अपना इस्तीफा सौंप दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा कि मंत्रालय में उनका प्रदर्शन अच्छा रहा।

कलराज ने कहा, मैंने 75 साल पूरे कर लिए हैं। मैंने प्रधानमंत्री से कहा कि वह मेरे बारे में कोई निर्णय ले सकते हैं। इस बार जब मैंने इस्तीफे की पेशकश की तो प्रधानमंत्री भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि मोदी ने उनसे कहा कि वह इस बारे में सोचेंगे कि उनकी क्षमता का उपयोग किस तरह किया जा सकता है। राज्यपाल बनाए जाने के बारे में पूछे जाने पर मिश्रा ने कहा, केंद्रीय नेतृत्व जो भी निर्णय लेगा, मैं उसका पालन करूंगा।

{ यह भी पढ़ें:- सरदार सरोवर बांध उद्घाटन: PM मोदी की राष्ट्र को सौगात, 10 लाख किसान होंगे लाभान्वित }

सूत्रों की मानें तो नितिन गडकरी को रेल मंत्री नहीं बनाया जाएगा। उमा भारती और निर्मला सीतारमन को भी मंत्रिमंडल से हटाए जाने की बात नहीं है। इतना जरूर है कि उमा भारती का मंत्रालय बदला जा सकता है। वहीं 10 नए मंत्री बनाए जाने की भी चर्चा है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल अपनी मंत्रिपरिषद में फेरबदल करेंगे। इसमें कुछ सहयोगी दलों समेत कुछ नये चहरे शामिल हो सकते हैं। मई 2014 में मोदी सरकार के केंद्र में सत्ता संभालने के बाद यह मंत्रिमंडल में तीसरा फेरबदल होगा।

{ यह भी पढ़ें:- हिमालय जैसे विराट व्यक्तित्व के धनी हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी }