हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष कमलेश तिवारी लखनऊ में गिरफ्तार

लखनऊ| अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर लखनऊ में संकल्प मार्च निकालने का प्रयास कर रहे हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष कमलेश तिवारी को गिरफ्तार कर लिया गया| कमलेश तिवारी के साथ उनके 40 समर्थकों की भी गिरफ्तारी हुई है|




हिंदू महासभा के अध्यक्ष रहे कमलेश तिवारी को पैगंबर मोहम्मद साहब के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी करने के मामले में रासुका (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) के तहत गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था| चुनाव से पहले उन्होंने हिंदू समाज पार्टी का गठन किया था। कमलेश की पार्टी ने रविवार को लखनऊ में राम मंदिर निर्माण संकल्प मार्च निकालने के ऐलान किया था|

माहौल न बिगड़े, इसलिए पुलिस ने सतर्कता बरतते हुए कमलेश तिवारी और उनके पार्टी के प्रवक्ता शिशिर चतुर्वेदी समेत 40 समर्थकों को गिरफ्तार किया| सूत्रों ने बताया कि समर्थकों को पुलिस लाइन में रखा गया है, लेकिन कमलेश तिवारी को नजरबंद करके रिजर्व पुलिस लाइन में रखा गया है| गिरफ्तार होने के बाद तिवारी समर्थक योगी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन और नारेबाजी कर रहे थे|




कमलेश ने कहा, “सपा और भाजपा की कार्यशैली एक जैसी है| इसी कारण राम मंदिर नहीं बन पा रहा है| जब योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री नहीं थे तो छह महीने में राम मंदिर निर्माण करने की बात करते थे| अब वह सत्ता में हैं, फिर भी राम मंदिर नहीं बन पा रहा है। हम कोशिश कर रहे हैं तो हमें गिरफ्तार करवा रहे हैं|” कमलेश तिवारी राम मंदिर मामले में न्यायालय में पक्षकार भी हैं|